Visitors have accessed this post 131 times.

सिकंदराराऊ : कोतवाली क्षेत्र के गांव कपसिया निवासी शाहिद हत्याकांड में पुलिस को बड़ी सफलता प्राप्त हुई है। पुलिस ने प्रेमी समेत दो नामजद आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा है। उक्त मामले में मृतक के भाई ने शाहिद की पत्नी समेत चार आरोपियों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कराई थी। पुलिस इस मामले में आरोपी पत्नी को जेल भेज चुकी है। उक्त मामले में अभी एक नामजद आरोपी पुलिस की पहुँच से दूर है।
गांव कपसिया निवासी निसार अली पुत्र बन्ने खा ने लिखाई रिपोर्ट में उल्लेख किया था कि रविवार की शाम 7 बजे गांव निवासी राशिम उर्फ पक्षी पुत्र मौजी , आरिफ पुत्र हुसैनी , हसमुद्दीन पुत्र मुख्तयार अली निवासी महार दरवाजा वरसा कॉलोनी जिला एटा मेरे भाई
शाहिद उर्फ भूरा 25 वर्ष पुत्र बन्ने को घर से बुलाकर ले गए थे । जब सोमवार को ईद के पर्व पर शाहिद घर पर नही आया था। उसी दौरान तीनो आरोपी शाहिद की पत्नी नाजनीन से बातचीत कर रहे थे। जब मैने तीनों आरोपियों से शाहिद के बारे में पूछा तो कहने लगे कि शाहिद जल्दी घर आ जाएगा। जब मै घर के दरवाजे पर खड़ा था तो मैने तीनो को शाहिद की पत्नी नाजनीन से कहते हुए सुना कि हमने तुम्हारे कहने से तुम्हारे रास्ते से हमेशा के लिए शाहिद को हटा दिया है। राशिम उर्फ पक्षी शाहिद की पत्नी नाजनीन से कह रहा था कि तुमने जो वादा किया था कि शाहिद के मर जाने के बाद तुम मुझसे शादी करोगी। अब हम जल्दी शादी कर लेंगे । हम तीनो ने रविवार की रात्रि 8 बजे शाहिद को चाकुओं से गोदकर मौत के घाट उतार दिया है और उसका शव गांव मानिकपुर के निकट रामबाग बम्बा में फेंक दिया है। इस बात को सुनकर वह चोक गया और उसने सारी बात अपने पिता बन्ने को बताई। बाद में जब बन्ने ने तीनों के बारे पूछा तो तीनों फरार हो गए थे। आरोपियों द्वारा बताए गए स्थान पर जब हम मोहल्ले के लोगो के साथ शाहिद को तलाश करते हुए सोमवार की शाम 4 बजे पहुँचे तो बम्बा में देखा कि शाहिद का चाकुओं से गुदा हुआ शव पड़ा हुआ मिला था। मृतक शाहिद की पत्नी ने प्रेम प्रसंग के चलते शाहिद की हत्या करा दी थी। मृतक शाहिद की शादी नाजनीन से 4 वर्ष पूर्व सम्पन्न हुई थी। मृतक शाहिद पर कोई संतान नही थी। इसी बीच उसके सम्बंध राशिम उर्फ पक्षी से हो गए। रिपोर्ट दर्ज होने के बाद पुलिस ने आरोपी नाजनीन को गिरफ्तार कर लिया और उससे पूछताछ कर मंगलवार को जेल भेज दिया था। बुधवार की सुबह पुलिस ने फरार चल रहे नामजद आरोपी राशिम उर्फ पंछी पुत्र मौजी निवासी गांव कपसिया व हसमुद्दीन पुत्र मुख्तयार अली निवासी महार दरवाजा वारसा कॉलोनी जिला एटा को अगसोली चौरहे से गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपियों के कब्जे से हत्या में प्रयुक्त चाकू को बरामद कर जेल भेजा है। वही नामजद आरोपी आरिफ पुत्र हुसैनी निवासी गांव कपसिया अभी फरार चल रहा है । पुलिस आरोपी की तलाश में जुटी हुई है।

INPUT – अनूप शर्मा