Visitors have accessed this post 150 times.

सिकंदराराऊ : वन महोत्सव के तहत शासन द्वारा पांच जुलाई को एक दिन में वृक्षारोपण हेतु प्रदेश में 25 करोड़ पौधों का लक्ष्य निर्धारित किया गया और सिकंदराराऊ तहसील में वास्तविक स्तर पर कितना वृक्षारोपण हुआ है और कितना उन पौधों का रख रखाव यह किसी से छिपा नहीं है। ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर रविवार को वायरल हुआ। जिसमें सिकंदराराऊ क्षेत्र के गांव खेड़िया खुर्द में वृक्षारोपण करने के लिए पौधे आए थे। किन्तु ग्राम प्रधान द्वारा किसी भी स्थान पर वृक्षारोपण नहीं किया गया । जिसके चलते पौधे एक स्थान पड़े सूखते हुए नजर आ रहे हैं। इससे स्पष्ट हो जाता है कि सरकारी विभाग शासन की मंशा के अनुरूप कितनी ईमानदारी व निष्ठा के साथ पालन कर रहे हैं। बता दें कि प्रदेश सरकार हर वर्ष करोडों रूपये खर्च कर के प्रदेश में हरियाली लाने का जोर शोर से प्रचार प्रसार किया जाता है और हर साल पांच जुलाई को वृहद स्तर पर पौधारोपण किया जाता है। किन्तु यहाँ पर वास्तविकता यह कि केवल कागजी घोड़े दौड़ा कर अपने कार्यो पर इतिश्री चढ़ा दी जाती है।

(अनूप शर्मा)