Visitors have accessed this post 96 times.

मुरसान : कस्बा मुरसान में कोचिंग सेंटर में छोटे छोटे कमरो में शिक्षा का व्यापार किया जा रहा है। जिसमें सरकारी शिक्षक सहित प्रायवेट अप्रशिक्षित शिक्षक छात्रों को शिक्षा देकर मनमाने तरीके से पैसा वसूल रहे है। खास बात यह है कि इन शिक्षण केन्द्रो का कही भी रजिस्ट्रेशन नही है। जिससे जीएसटी और टैक्स की चोरी भी की जा रही है। लेकिन शिक्षा विभाग के साथ ही प्रशासन द्वारा मामले में कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। आपको बता दे कि शहर की गली-मोहल्लों में कई अवैध कोचिंग संस्थान संचालित हो रहे है । कोई बहतर इंग्लिश सिखाने का दावा करता है । तो कोई आईएएस,आईपीएस क्वालीफाई कराने का । हालत यह है कि इन संस्थाओं द्वारा सभी प्रकार के कॉम्पटीशन क्वालीफाई कराने के दावे किए जाते हैं। हाईस्कूल और हायर सेकेंडरी की परीक्षा की तैयारी और कॉम्पटीशन कराने वाले कोचिंग की कस्बा मुरसान में भरमार सी हो गई है। यह कोचिंग संचालक मनमाने तरीके से छात्रों से फीस वसूल रहे हैं। लेकिन इन कोचिंग संचालकों के खिलाफ जिला प्रशासन अलर्ट नहीं है। कस्बा के कुछ कोचिंग सेंटरों को छोड़ दे , तो किसी का भी रजिस्ट्रेशन नही है और न ही इन्हें खोलने के लिए कोई स्थान सुनिश्चित किया गया है।कोचिंग सेंटर संचालकों द्वारा फ़ीस तो मनमुताबिक ली जाती है। लेकिन इन सेंटरों में छात्र-छात्राओं द्वारा सुविधाओं के नाम पर कुछ भी नसीब नहीं होता है। कस्बा मुरसान की हर गली में आपको कोचिंग सेंटर देखने को मिल जाएगा । कस्बा मुरसान में कई दर्जनो से ज्यादा कोचिंग सेंटर संचालित हो रहे है । कस्बे में केवल गिने चुने ही सेंटर वैध संचालित हैं। अन्य के पास रजिस्ट्रेशन तक भी नहीं है।

इनपुट :- ब्रजमोहन ठेनुआ

 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here