Visitors have accessed this post 143 times.

सौरव गांगुली एक ऐसे खिलाड़ी थे, जिनके क्रीज पर होने पर फैंस खेल के सबसे बड़े शॉट्स और सबसे ज्यादा रन यानी छक्कों की ही उम्मीद करते थे। दादा के क्रीज पर थोड़ा बिताने के बाद ही स्टैंड्स में फैंस एक स्वर में दादा से छक्कों की मांग करने लगते थे। गांगुली के क्रीज से बाहर निकल कर स्पिनरों के खिलाफ बॉल को बाउंड्री के बाहर पहुंचाने वाले क्लासिक शॉट्स आज भी क्रिकेट प्रेमियों को याद हैं। भारतीय प्रशंसकों के प्यारे दादा आज 46 साल के हो गए हैं। उनके फैंस ने उन्हें ‘गॉड ऑफ ऑफसाइड’, ‘प्रिंस ऑफ कोलकाता’, ‘बंगाल टाइगर’ और ‘दादा’ जैसे नाम दिए थे। आपको बता दें कि गांगुली का जन्म 8 जुलाई 1972 में कोलकाता में हुआ था। आज दादा के बर्थडे पर हम आपको उनके कुछ अनोखे रिकॉर्ड्स बताने जा रहे हैं।

दादा के रिकॉर्ड्स

-अपने डेब्यू टेस्ट मैच में ही गांगुली ने 131 रन की शानदार पारी खेली और पहले मैच में सेंचूरी जड़ने वाले तीसरे खिलाड़ी बन गए। यह मैच 1996 में इंगलैंड के लॉर्ड्स स्टेडियम में खेला गया था। जड़ने वाले दुनिया के तीसरे बल्लेबाज थे।

-टीम इंडिया ने दादा की अगुवाई में 49 टेस्ट मैच खेले, इनमें से 21 में जीत दर्ज की और 13 में हार का सामना करना पड़ा, जबकि 15 मैच ड्रॉ रहे।  वहीं दूसरी ओर दादा की कप्तानी में 1999 से 2005 के बीच भारत ने 146 वनडे मैचों में 76 जीते और 65 गंवाए, जबकि 5 मैचों के नतीजे नहीं आए।

-टीम इंडिया को 20 से ज्यादा टेस्ट मैचों में जीत दिलाने वाले सौरव गांगुली पहले कप्तान हैं। उनकी कप्तानी में भारत ने लगातार 21 टेस्ट जीते। इससे पहले मोहम्मद अजहरुद्दीन की कप्तानी में भारत ने 14 टेस्ट मैच जीते थे। दादा का यह रिकॉर्ड टीम इंडिया के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने तोड़ा। धोनी की कप्तानी में टीम ने 27 टेस्ट मैच जीते।

-सौरव गांगुली और सचिन तेंदुलकर के नाम वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा रनों की साझेदारी करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड दर्ज है। इन दोनों ने 176 वनडे पारियों में 8227 रनों की साझेदारी की है।

-भारत से बाहर सबसे ज्यादा सेंचुरी मारने के मामले में दादा दूसरे नंबर पर हैं। उन्होंने भारत से बाहर 18 सेंचुरी जड़ी हैं। इस मामले में उनसे ऊपर सिर्फ सचिन तेंदुलकर ही हैं। तेंदुलकर ने भारत के बाहर 29 सेंचुरी जड़ी हैं।

-वनडे क्रिकेट में सबसे ज्यादा छक्का जड़ने वालों की लिस्ट में दादा छठे नंबर पर हैं। सौरव गांगुली 190 छक्कों के साथ छठे नंबर पर हैं। उनसे आगे सिर्फ शाहिद अफ्रीदी, सनथ जयसूर्या, क्रिस गेल, सचिन तेंदुलकर और ब्रेंडन मैकलम ही हैं।

-वनडे में सबसे ज्यादा मैन ऑफ द मैच रहने के मामले में सौरव गांगुली सचिन तेंदुलकर के बाद दूसरे भारतीय क्रिकेटर हैं। सचिन तेंदुलकर 62 बार मैन ऑफ द मैच बन चुके हैं जबकि गांगुली को 31 बार मैन ऑफ द मैच चुना गया है।

Input vikas

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here