Visitors have accessed this post 37 times.

हाथरस : एसोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक हृयूमन राइट्स के राष्ट्रीय महासचिव प्रवीन वार्ष्णेय ने जनपद की स्वास्थ्य व्यवस्थाओं को नाकाफी मानते हुए जिला प्रशासन और जनप्रतिनिधियों से मांग की है कि जनपद में कोविड के सीमित वैड होने के कारण पीडितों को समुचित इलाज नहीं मिल पा रहा है कोविड के लक्षण होने के वावजूद मरीज एडमिट होने के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहे है किसी को वैड उपलब्ध नहीं हो पा रहे हैं ऑक्सीजन पर्याप्त मात्रा में नहीं मिल पा रही है घंटे-दो घंटे बाद अस्पताल प्रबंधन मरीजों से ऑक्सीजन के लिए मना कर देते हैं अगर ऐसी स्थिति में परिवारी जन मरीज को घर पर ले जाएंगे संक्रमित व्यक्ति द्वारा पूरे परिवारीजनों को खतरा बन जाता है ऐसा पहली बार हुआ है मरीजों को अस्पताल इलाज नहीं मिल रहा हैं दवाई नहीं मिल रही है ऑक्सीजन नहीं मिल रही है ऐसी स्थिति में जनपद की कितनी भयावह स्थिति होगी आप इसकी कल्पना कीजिए इलाज दवाई ऑक्सीजन के लिए परिवारी जन जगह-जगह फोन कर कर अपनी परेशानियां व्यक्त कर रहे हैं
जिला प्रशासन व जनप्रतिनिधियों से मांग करते हुए कहा कि जनपद में वार्डों की संख्या कम से कम 1000 की जाए जिससे संक्रमित मरीजों को समुचित इलाज मिल सके और ऑक्सीजन की पर्याप्त व्यवस्था कर लोगों को जीवन बचाने का काम हो सके और समुचित दवाई जनपद में उपलब्ध हो जिससे जनपद की स्वास्थ्य व्यवस्था बेहतर हो सके

यह भी पढ़े : दूध में घी डालकर पीने से होंगे यह फायदे

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave