Visitors have accessed this post 224 times.

हाथरस : कोरोना संक्रमण से बचाव को लेकर जिला प्रशासन द्वारा किए जा रहे कार्यों, जिले के कोविड संक्रमण की स्थिति व प्रभावी नियंत्रण के दृष्टिगत शासन से नामित नोडल अधिकारी प्रभात कुमार सारंगी स्थानिक आयुक्त उत्तर प्रदेश नई दिल्ली ने जिलाधिकारी रमेश रंजन के साथ कलेक्ट्रेट में कोविड-19 से सम्बन्धित अधिकारियों के साथ बैठक की। नोडल अधिकारी ने जिले में शासन द्वारा कोविड-19 से संबंधित दिशा निर्देशों का जनपद स्तर पर शत प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। उन्होंने निगरानी समिति के माध्यम से आम जनमानस को मास्क का नियमित प्रयोग करने तथा नियमित रूप से हाथ धोने हेतु जागरूक एवं प्रेरित करने के निर्देश दिए। सामाजिक, धार्मिक, शादी समारोह, शोक सभाओं आदि में सरकार द्वारा निर्धारित गाइड लाइन का पालन कराने एवं सार्वजनिक स्थानों, गलियों, सार्वजनिक पेयजल श्रोतों तथा क्वारेन्टाइन किए गए घरों के आस-पास साफ-सफाई कराने एवं ब्लीचिंग पाउडर सोडियम हाईपोक्लोराइड का छिडकाव कराने के निर्देश दिए। उन्होंने निर्देश देते हुये कहा कि निगरानी समिति प्रतिदिन गावों वार्ड में घर-घर जाकर सर्वे किया जाये, सर्वे के उपरान्त पाये गये संदिग्ध लक्षणयुक्त मरीजों को मेडिकल किट उपलब्ध कराने और आर0आर0 टीम को संदिग्ध लक्षणयुक्त मरीजों का 24 घण्टे में एंटीजन आर0टी0पी0सी0आर टेस्ट कराये जाने के भी निर्देश दिये। मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि आर0आर0 टीम के कार्यों का पर्यवेक्षण जिला स्तर पर ए0सी0एम0ओ0 तथा संबंधित एम0ओ0आइ0सी0 द्वारा किया जा रहा है। नोडल अधिकारी ने निर्देश देते हुये कहा कि प्राइवेट हाॅस्पीटल द्वारा निर्धारित दरों पर ही इलाज किया जाये तथा किसी भी प्रकार का ओवर चार्ज मरीजों से न लिया जाये। उन्होंने किसी प्रकार की कोई शिकायत प्राप्त होने पर संबंधित के खिलाफ कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये। उन्होंने निर्देश दिये कि लक्षण युक्त मरीजों को निगरानी समिति के माध्यम से मेडिसिन किट का वितरण किया जाये तथा सफाई कर्मचारियों के माध्यम से गांव में सैनेटाइजेशन का कार्य निरंतर किया जाये। जिससे कोविड-19 की महामारी से बचा जा सके।नोडल अधिकारी ने मुख्य चिकित्साधिकारी से स्वास्थ्य सेवाओं से संबंधित हाॅस्पीटल में उपलब्ध बेड, जनपद में कोविड संक्रमण की स्थिति, जीवन रक्षक दवा रेमडिसिविर इंजेक्शन, कोविड अस्पतालों में आॅक्सीजन की उपलब्धता, वेन्टीलेटर, ब्लाॅकवार कन्टेनमेण्ट जोन, जनपद में ब्लैक फंगस के संक्रमण से संबंधित जानकारी ली। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी से होम आइसोलेशन में भर्ती मरीजों के बारे जानकारी ली और निर्देश देते हुये कहा कि मरीजों को अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता होने पर उन्हें तुरन्त सहायता उपलब्ध कराई जाये। बैठक के पश्चात उन्होंने को एकीकृत कोविड कमाण्ड कन्ट्रोल सेंटर का निरीक्षण किया निरीक्षण करते हुुये उन्होंने कहा कि साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जाये तथा सामाजिक दूरी बनाकर कार्य सम्पादित करें तथा कन्ट्रोल रूम में प्राप्त होने वाली शिकायतों का निस्तारण शीघ्र से शीघ्र कराये जाने के निर्देश दिये इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी जे0पी0 सिंह, पुलिस अधीक्षक विनीत जायसवाल, मुख्य चिकित्सा अधिकारी चंद्र मोहन चतुर्वेदी, आबकारी अधिकारी सुबोध कुमार तथा अन्य संबंधित अधिकारी एवं कर्मचारी गण उपस्थित रहे।

इनपुट : बृजमोहन ठैनुआ

यह भी पढ़े : जाने क्यों शव यात्रा मे राम नाम का नारा लगाया जाता है।

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave