Visitors have accessed this post 30 times.

खबर उन्नाव के रसूलाबाद से है जहाँ भर्ष्टाचार की नई-नई इबारत लिखने वाली नगर पंचायत रसूलाबाद एक बार फिर सुर्खिया बटोर रही है। इस बार नगर पंचायत अधिशाषी अधिकारी व नगर अध्यक्ष द्वारा किये गए भर्ष्टाचार कि शिकायत नगर के सात सभासदो ने जिलाधिकारी से कर भर्ष्टाचार की निष्पक्ष जांच की मांग की थी जिसके बाद अपर जिलाधिकारी ने तीन सदस्यीय टीम बनाकर जांच शुरू करवा दी जाँच टीम मे उपजिलाधिकारी हसनगंज को जांच टीम का अध्यक्ष बनाया गया है जिनकी अगुवाई मे जांच सुरु कर दी गई।

शिकायत कर्ता सभासद प्रतिनिधि हसीन खान ने बताया नगर पंचायत अधिशाषी अधिकारी व अध्यक्ष द्वारा निर्माण सहित नगर द्वारा खरीद की गई वस्तुओ मे भी भरपूर भ्रष्टाचार किया गया है। जिसकी हम लोगो ने आठ बिंदुओ पर जिलाधिकारी व दो बिंदुओ पर तहसील दिवस मे शिकायत की थी जिसकी जांच उपजिलाधिकारी द्वारा की जा रही है कुछ बिंदुओ पर जांच कर सैम्पल लिए गए है अभी और जांचे होना बाकी है। रामजी गुप्ता मनोनीत सभासद ने बताया नगर पंचायत अध्यक्ष व अधिशाषी अधिकारी द्वारा नगर मे भरपूर भर्ष्टाचार किया गया है।निर्माण कार्य मानक विहीन करवाये गए है बल्कि शाहिद विमल का जो रास्ता बना है उस पर नई इंटरलॉकिंग लगाकर पुरानी इंटरलॉकिंग निकलवाकर बेच दी गई है कुल मिलाकर नगर पंचायत द्वारा हर काम मे भ्रष्टाचार किया गया है। सहायक अभियन्ता मानवेन्द्र ने बताया सैम्पल लिए गए है जिनको जांच के लिए लखनऊ भेजा जाएगा।
उपजिलाधिकारी हसनगंज ने बताया नगर पंचायत रसूलाबाद के सभासदो द्वारा नगर के निर्माण कार्यो व खरीद मे भ्रस्टाचार की शिकायत की गई थी जिसकी जांच की जा रही है निर्माण कार्यो के सैम्पल लिए गए है अभिलेखो की जांच की जा रही है।

Gaurav Awasthi copy

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE