Visitors have accessed this post 42 times.

30 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास 9 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण 20 करोड़ से गढ़मुक्तेश्वर का विकास मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ हापुड़ जनपद के गढ़मुक्तेश्वर में कार्तिक पूर्णिमा पर लगने वाले ऐतिहासिक मेले में गंगा पूजन व जनसभा में की गई घोषणा

गढ़ गंगा मेला पौराणिक आस्था, धार्मिक मान्यताओं का प्रमुख स्थान:-   योगी आदित्यनाथ

गढ़ गंगा व तिगरी मेले में आने वाले श्रद्धालुओं को दोनो जनपदों के मेले से जोड़ने, आवागमन में सुगमता की व्यवस्था करने की घोषणाः- मा0 मुख्यमंत्री प्रदेश सरकार
मा0 मुख्यमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों को प्रदान किये प्रमाण-पत्र
एप के माध्यम से मिलेगी मेले की समस्त जानकारी
जनपद हापुड़ के सर्वागींण विकास हेतु संकल्पित विकास पुस्तिका का विमोचन

कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर पौराणिक आस्था, सांस्कृति धार्मिक मान्यताओं का प्रतीक उत्तर भारत का ग्रामीण आंचल गढ़ गंगा तट पर आयोजित गंगा मेले में आज प्रदेश के मा0 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ नें गंगा तट पर वैदिक मंत्रोचार से विधिवत आरती गंगा पूजन किया। तदोपरांत गढ़ गंगा तट पर 29 करोड़ 99 लाख की योजनाओं का शिलान्यास व 9 करोड़ 21 लाख योजनाओं का लोकार्पण, सरकार की महत्वपूर्ण योजना आयुष्मान भारत, प्रधानमंत्री आवास योजना, राष्ट्रीय बागवानी मिशन, एक जनपद एक उत्पाद व शौभाग्य योजनाओं के 05 लाभार्थियों को योजनाओं के लाभ के स्वीकृति पत्र प्रदान किये। उन्होंने यह भी घोषणा कि की गढ़मुक्तेश्वर के विकास कार्य 20 करोड़ से कराया जायेगा। इस अवसर पर गढ़ गंगा मेले में बच्चों व बुजुर्गो के खोया-पाया एवं मेले की समस्त जानकारी हेतु तैयार एप को भी लांच किया तथा जनपद के सर्वागींण विकास हेतु संकल्पित विकास पुस्तिका का विमोचन किया। मा0 मुख्यमंत्री नें गढ़ गंगा व तिगरी मेले को एक साथ जोड़ने हेतु आमजन को आवागमन में सुगमता हेतु व्यवस्था करने की घोषणा की।
मा0 मुख्यमंत्री ने कहा कि गढ़ गंगा मेले में प्रदेश के जनपदों सहित दिल्ली, हरियाणा, पंजाब व उत्तराखण्ड़ प्रदेश के लोग अपनी सांस्कृतिक परमपराओं का निर्वहन करने हेतु धार्मिक आयोजन के लिये इस पवित्र व आस्था के मेले में शामिल होते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे देष की सभी परमपराओं का इतिहास गोरवशाली हैं जो पांच हजार वर्ष पुरानी परमपराओं के निर्वहन के लिये काफी संख्या में श्रद्धालु अपने पूर्वजों को दीप दान कर श्रृद्धांजलि देकर उनकी मुक्ति की कामना करते हैं। उन्होंने कहा कि इस ऐतिहासिक पौराणिक मेले का महाभारत कालीन इतिहास हैं।
मा0 मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा देश आस्था का देश हैं। प्राचीन काल से चली आ रही गढ़ गंगा मेले की परमपराओं को कायम रखने हेतु यहां के लोगो को धन्यवाद दिया जिन्होने आज तक इस मेले की परमपराओं को बनाएं रखा हैं। पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शिवालयो पर गंगा जल चढ़ाने, तथा धार्मिक आस्था कांवड़ मेले को अच्छे ढ़ग से सम्पन्न करा कर आमजन की धार्मिक आस्था का सम्मान किया हैं, इसके लिये उन्होंने मेरठ, मुरादाबाद व सहारनपुर मण्ड़ल के वरिष्ठ अधिकारियों को धन्यवाद दिया। हापुड़ व अमरोहा दोनो जनपदों में लगने वाले गंगा मेले का प्रान्तीकरण करके यहां के श्रद्धालुओ को सुविधा देने का काम किया हैं। गढ़मुक्तेश्वर मेले का पौराणिक महत्व है उसकी महत्वता को दृष्टिगत रखते हुये यहां का सर्वागींग विकास किया जायेगा। उन्होंने गढ़ में एक अतिथि गृह, मनोरंजन पार्क, लेजर साउण्ड़ व श्रद्धालुओ के लिये शैड़ का कार्य पर्यटन विभाग द्वारा 20 करोड से अधिक की लागत से सम्पन्न कराया जायेगा। मा0 मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रदेश में नौजवानों को नौकरी प्रदान करने हेतु विभिन्न विभागों में रिक्त पदों को भरने का काम बड़ी तीव्रता से किया जा रहा हैं।
मा0 मुख्यमंत्री ने जनपद हापुड़ के जिला प्रशासन को निर्देश दिये कि वे गढ़ मेले के पौराणिक महत्व को दृष्टिगत रखते हुये व्यापक कार्ययोजना तैयार करें तथा गढ़ गंगा व तिगरी मेले में आम श्रद्धालुओं के आवागमन की सुगमता हेतु भी कार्य योजना तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश दियें। उन्होंने कहा कि सरकार उत्तर प्रदेश के गढ़मुक्तेश्वर,तिगरी व सुक्रताल आदि तीर्थ स्थलो के विकास हेतु केन्द्र व प्रदेश सरकार दोनो मिलकर कार्य कर रही हैं जिससे यहां के अध्यात्मिक व सांस्कृतिक विकास को बढ़ाने हेतु पर्यटन विभाग को कार्य योजना बनाने के लिये निर्देश दियें गये हैं। उन्होंने कहा कि यहां के किसानो व नौजवानों के विकास के लिये प्रदेश सरकार कटिबद्ध है जिससे पश्चिम के लोगो की सुरक्षा के साथ किसी प्रकार के खिलवाड़ में किसी प्रकार की छूट नही होगी तथा हर व्यक्ति को पूर्ण सुरक्षा व उसका सम्मान देने का सरकार कार्य कर रही हैं। उन्होंने कहा कि किसानो का हित प्रदेश सरकार का सर्वोपरि है जिसके लिये वह कार्य कर रही है। उन्होंने बताया कि गन्ना किसानों का 40 हजार करोड़ का भुगतान किया गया है शेष 06 हजार करोड़ बकाया गन्ना भुगतान प्रत्येक दशा में 30 नवम्बर तक कराया जायेगा जिसके लिये उन्होंने मिल मालिको को 4 हजार करोड़ को सोफ्ट लोन स्वीकृत किया है, जो किसानों के सीधे खाते में जमा कराया जायेगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में वर्तमान में 119 चीनी मिले चल रही है और अगामी सत्र् में दो चीनी मिले ओर संचालित होगी। उन्होंने चीनी मिलों के आधुनिकरण व विस्तारीकरण की योजना बनाई जा रही हैं तथा चौ0 चरन सिंह की जन्म भूमि बागपत में स्थित रमाला चीनी मिल का विस्तारीकरण किया गया हैं जो माह फरवरी 2019 में चालू करा दी जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में चीनी का उत्पादन काफी मात्रा में हैं किन्तु खपत कम होने के कारण गन्ने से एथनोल बनाने के लिये कार्य किया जा रहा है जिससे किसानों की आय बढ़ाकर उनके चेहरे की खुशी बढ़ाने का कार्य कर रही हैं। उन्होंने पश्चिम प्रदेश के किसानो व जवानो द्वारा किये जा रहे प्रदेश व देश के विकास तथा रचनात्मक सहयोग के लिये धन्यवाद दिया। उन्होंने जिला प्रशासन को यहां के सभी किसानो की सुरक्षा व उनके कारोबार को फलने-फूलने के लिये सकारात्मक सोच के साथ कार्य करने के लिये निर्देश दिये।
कार्यक्रम की अध्यक्षता जनपद हापुड़ के भाजपा जिलाध्यक्ष विवेक अग्रवाल व कार्यक्रम का सफल संचालन पूनम शर्मा ने किया।
इस अवसर पर केन्द्रीय मानव संसाधन मंत्री चौ0सतपाल सिंह, पूर्व केन्द्रीय मंत्री चिन्मयानंद जी, प्रदेष के खेल कूद व यूवा कल्याण मंत्री चेतन चौहान व पंचायती राज मंत्री भूपेन्द्र चौधरी, अमरोहा के सांसद चौ0 कंवर सिंह तंवर, विधायक गढ़ कमल सिंह मलिक, हापुड़ विजयपाल आढ़ती, जिला पंचायत अध्यक्ष हापुड़ अमृता कुमार, अमरोहा सरिता सिंह, मण्ड़लायुक्त अनिता सी मेश्राम, ए0डी0जे0 प्रषान्त कुमार, डी0आई0जी मेरठ मण्ड़ल रामकुमार, जिलाधिकारी हापुड़ अदिति सिंह, पुलिस अधीक्षक संकल्प शर्मा, मुख्य विकास अधिकारी हापुड़ दीपा रंजन, वरिष्ठ प्रषासनिक अधिकारी सहित भाजपा के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहें

INPUT – प्रमोद शर्मा

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here