Visitors have accessed this post 27 times.

अलीगढ : शहर के औद्योगिक क्षेत्र तालानगरी स्थित श्री मंगलकारी बालाजी महाराज मंदिर पर चल रहे दो दिवसीय विशाल वार्षिकोत्सव के अंतिम दिन श्री बालाजी महाराज का महायज्ञ एवं मेवाओं से निर्मित बंगला दर्शन कराया गया। भारी मात्रा में उपस्थित धार्मिक जनसमूह की वजह से मंदिर परिसर से लगभग 2 किलोमीटर लम्बी कतार लगवाई गयी जिससे कि दर्शन करने में सुगमता हो सके।
मंगलवार प्रातः जनपद के सर्वांगीण सम्पन्नता एवं प्राणी मात्र के सर्व कल्याण, निसंतान, संकटों से ग्रस्त, कष्टी, आर्थिक विकास एवं शुख शांति सम्रद्धि के साथ राष्ट्र एवं सम्पूर्ण विश्व की मंगलकामना हेतु महामंडलेश्वर स्वामी श्री पूर्णानंदपुरी जी महाराज के सानिध्य में आचार्य गौरव शास्त्री,ऋषि शास्त्री, रवि शास्त्री, ऋषभ शास्त्री, गोविन्द शास्त्री आदि आचार्यों ने वेदी,पंचांग पीठ,सर्वतोभद्र, नवग्रह पूजन कर एवं भगवान गणेश,बालाजी महाराज,प्रेतराज सरकार,विष्णु,लक्ष्मी,शिव,पार्वती,व राधा,कृष्ण का आवाहन पूजन अर्चन किया उसके बाद 5 कुण्डीय महायज्ञ में मुख्य कुंड के यजमान डॉ अमित अग्रवाल,सहित अन्य कुंडो के यजमानों द्वारा यज्ञकुंड में वेदमन्त्रों के साथ आहुतियाँ दिलवायी। इस अवसर पर महाराज जी ने भक्तों को सम्बोधित करते हुए कहा कि वैदिक परम्पराओं एवं वेदमंत्रो के साथ महायज्ञ में दी हुईं आहुतियाँ वातावरण को तो शुद्ध करती ही हैं साथ ही अन्तःकरण की शुद्धि हेतु भी अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने बताया कि हनुमान जी ने भगवान राम की सेवा तन और मन से लेकर लंका के विध्वंश की शुरुआत की इसलिए हनुमान जी पूजा मात्र से प्रसन्न होकर अपने आराध्य की तरह हमेशा भक्तों की रक्षा करते हैं।तीन घंटे चले महायज्ञ की आहुतियों के माध्यम से यज्ञ में डाली गयीं औषधियों द्वारा मंदिर प्रांगण सुगन्धित हो उठा। महायज्ञ की पूर्णाहुति के बाद सांय कालीन बेला में एक शाम बालाजी महाराज के नाम भव्य भजन संध्या का आयोजन मथुरा बृन्दावन से आये कलाकारों द्वारा किया गया जिसका शुभारंभ स्वामी श्री पूर्णानंदपुरी जी महाराज एवं चेयरमेन हरदुआगंज तिलकराज यादव ने सामूहिक रूप से दीप प्रज्वलन कर किया। देर रात तक हुयी भजन संध्या के साथ आगरा के कलाकारों द्वारा निर्मित पंच मेवाओं के बालाजी महाराज बंगला भोग दर्शन हुए जिसके लिए मंदिर के कपाट खुलते ही भक्तों की भीड़ का ताँता लगा रहा। सभी भक्तों ने बालाजी महाराज की परिक्रमा कर देर रात तक दर्शन किये,साथ ही मंदिर में आये भक्तों के लिए भंडारा प्रसादी का आयोजन भी किया गया। वार्षिकोत्सव के अंतिम दिन की संध्या पर मनोज अग्रवाल, ललित दिवान,डॉ योगेंद्र गुप्ता,कपिल शर्मा मुकुल,मित्तल,अनिल बंसल,महादेव अग्रवाल,दिनेश मित्तल,पवन कुमार वार्ष्णेय,विमल अग्रवाल,राजेश अग्रवाल,ललित दीवान,मनोज गोकुल,आकाश वार्ष्णेय,अतुल मित्तल,सहित सैकणो की तादात में भक्त जन उपस्थित रहे।

vinay

यह भी देखें :-