Visitors have accessed this post 32 times.

सिकंदराराऊ : श्री श्याम सेवा मित्र मंडल द्वारा श्री श्याम संध्या के पाँचवें संस्करण का भव्य आयोजन किया गया । जिसमें सभी भक्त जनों ने श्याम बाबा के मधुर भजनों का रस पान किया । जिसमें पटना बिहार से आई भारत की मशहूर श्याम भजन गायिका रेशमी शर्मा व भरतपुर राजस्थान से आए मयंक ब्रजवासी ने अपनी मधुर भजनों से हज़ारों लोगों से भरे पंडाल को झूमने पर विवश कर दिया। भजनों की गूंज से नगर में रात खाटू श्याम की भक्ति से सराबोर हो गई। एक ओर जहां भजनों पर खाटू श्याम के भक्त झूम रहे थे, वहीं दूसरी ओर पंडाल में बैठे हर श्रद्धालुओं पर बस श्याम की भक्ति का रंग चढ़ा था। गायकों ने भजनों से माहौल में भक्ति रस घोल दिया और सुरीली आवाज का जादू बिखेरकर सभी को मंत्रमुग्ध कर दिया। संकीर्तन रात करीब दो बजे तक भजन संध्या का कार्यक्रम चलता रहा। आयोजन के लिए सुसज्जित मंच तैयार किया गया। मंच पर एक ओर खाटू श्याम बाबा का दरबार सजाया गया, वहीं विभिन्न सुगंधित पुष्पों से बाबा का मनोहारी श्रृंगार किया गया। रात आठ बजे बाबा की अखंड ज्योत प्रज्ज्वलित की गई। दरबार व अखंड ज्योत के दर्शन के लिए श्रद्धालुओं का तांता लगा। खाटू श्याम सेवकों द्वारा बाबा के दरबार में छप्पन भोग लगाया गया। रात 2:00 बजे तक भजन संध्या का कार्यक्रम चलता रहा। देर रात महाआरती के बाद छप्पन भोग का प्रसाद वितरित किया गया
रेशमी शर्मा के भजन “ मैरो श्याम बाबा “ पर सभी श्याम भक्त मंत्र मुग्ध हो गए। श्री श्याम संध्या रात्रि 8 बजे से शुरू होकर मध्य रात्रि तक चली। उसके बाद सभी भक्त लोगों ने पूड़ी सब्ज़ी के प्रसाद का आनंद लिया । पूरा शहर श्री श्याम भक्ति में डूबा हुआ था । इससे एक दिन पहले श्री श्याम बाबा की निशान यात्रा भी पूरे शहर में निकाली गई थी जिससे पूरा शहर श्री श्याम मय हो गया था । मित्रमंडल के सभी आयोजकों ने सभी श्री श्याम भक्तों का आभार व्यक्त किया।
इस अवसर पर मुख्य रूप से कृष्ण कुमार राघव , गौरव वार्ष्णेय , शिवम् माहेश्वरी , विशाल वार्ष्णेय , वितुल वार्ष्णेय , पारस गुप्ता , योगेश वार्ष्णेय , आलोक वर्मा , इंद्रदेव पालीवाल,नीरज बजाज , विशाल दरगढ़ , वैभव वार्ष्णेय, दीपक गुप्ता , कपिल अग्रवाल ,कृष्णा वार्ष्णेय , क्रतांक वार्ष्णेय, गोनी श्रीवास्तव ,कमलकांत दीक्षित, अभिषेक राजाजी , रिंकू वार्ष्णेय आदि रहे ।

vinay

यह भी देखें :-