Visitors have accessed this post 114 times.

हसायन : हम आपको बता दें कि वन महोत्सव के उपलक्ष्य में हसायन कोतवाली परिसर के प्रांगण में वृक्षारोपण किया गया भारत में प्रति वर्ष जुलाई माह के पहले सप्ताह को वन महोत्सव के रूप में मनाया जाता है वन महोत्सव जुलाई महीने में बनाया जाता है क्योंकि जुलाई अगस्त का महीना वर्षा ऋतु का होता है वन जीवन है इंसान को यदि इस धरती पर जीवित रहना है तो उसे सांस लेने की जरूरत है यदि सांस लेने में ऑक्सीजन नहीं होगी तो हम जीवित भी नहीं रहेंगे पूरे 1 सप्ताह तक चलने वाले इस महोत्सव का उद्देश्य मनुष्य को वृक्षों के प्रति जागरूक करना है वन महोत्सव के दौरान प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य बनता है कम से कम एक पौधा अवश्य लगाएं वृक्षों से हमें होने वाले लाभ वृक्षों से हमें ठंडी हवाएं मिलती हैं पीपल के वृक्ष में देवी देवताओं का वास है वृक्षों पर पक्षी अपना घर बनाते हैं वृक्षों से हमें ऑक्सीजन भी मिलती है वृक्षों से हमें फल खाने के लिए भी मिलते हैं वृक्ष हमारे भारत की प्रकृति और सुंदरता को बढ़ाते हैं प्रत्येक नागरिक का कर्तव्य बनता है हमें वृक्ष को बचाना भी है और लगाना भी है
इस मौके पर उपस्थित रहे रामनरेश दरोगा गौरव पुरी महिला कॉन्स्टेबल रुचि, सोनम, रवीना बानो|

जब धरती पर रहेंगे बन
तभी मिलेगा हमें स्वस्थ जीवन

INPUT – YATENDRA PRATAP

यह भी देखें :-