Visitors have accessed this post 130 times.

हाथरस : राष्ट्रीय विप्र एकता मंच का स्थापना दिवस धूमधाम के साथ मनाया गया। इस अवसर पर संकल्प समारोह का आयोजन किया गया। जिसमें उपस्थित ब्राह्मण जनों ने ब्राह्मण समाज , सनातन धर्म एवं राष्ट्र हित के लिए सदैव समर्पित रहकर कार्य करने का संकल्प लिया। कार्यक्रम का शुभारंभ भगवान परशुराम की चित्र की समक्ष दीप प्रज्वलित करके किया गया। वहीं राष्ट्रीय अध्यक्ष पंडित मित्रेश चतुर्वेदी का फूलमाला तथा पटका पहनकर एवं फरसा भेंट करके स्वागत किया गया।
कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विप्र कुल शिरोमणि सम्मान से अलंकृत पंडित मित्रेश चतुर्वेदी ने कहा कि भारत देश ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में हिंदू समाज जागृत हो रहा है। ब्राह्मणों ने हमेशा समाज को जगाने और सदमार्ग पर आगे ले जाने का कार्य किया है।सनातन धर्म में मानव के कल्याण की भावना छिपी है । जो अपने धर्म की रक्षा करता है, धर्म भी उसकी रक्षा करता है। पूरे विश्व में सनातन धर्म अनादिकाल से चला आ रहा है। इस धर्म की व्यापकता को कोई नाप नहीं सकता, इस धर्म में भगवान ने अवतार लेकर समय-समय पर धर्म की रक्षा की है।
श्री चतुर्वेदी ने कहा कि आज का युवा अपने स्वर्णिम भविष्य के लिए चिंतित है, लेकिन सनातन धर्म के प्रचार-प्रसार एवं उसकी रक्षा के लिए उनकी भूमिका नगण्य है। सनातन धर्म में मानव मात्र के कल्याण की भावना छिपी है। वेद ज्ञान का अथाह सागर है। हमें हिंदू धर्म की रक्षा के लिए कार्य करते रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि हमें नशे से दूर रहकर धार्मिक, सामाजिक कर्तव्य की तरफ अग्रसर होने की जरूरत है।
प्रदेश महासचिव राकेश उपाध्याय ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी को सनातन धर्म संस्कृति के लिए आगे आना चाहिए।
राष्ट्रीय विप्र एकता मंच युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष मोहित उपाध्याय ने कहा कि सनातन धर्म की पवित्रता, लचीलापन और उससे प्राप्त होने वाली उपलब्धियां हमें हर कदम पर गौरवान्वित करती हैं। हमारी सभ्यता और संस्कृति में सनातन धर्म की छवि पारदर्शी रुप में स्पष्ट परिलक्षित होती है।
कार्यक्रम की अध्यक्षता राष्ट्रीय संगठन मंत्री दुर्गा दत्त उपाध्याय ने की एवं संचालक अभिषेक शर्मा ने किया।
इस अवसर पर राकेश उपाध्याय, मोहित उपाध्याय, विजय उपाध्याय, शशांक दीक्षित, नितिन पचौरी, उत्कर्ष पाठक, ध्रुव दीक्षित , शिवहरी शर्मा, विष्णु उपाध्याय, शिवम दीक्षित , आकाश गौतम आदि मौजूद रहे।

INPUT – VINAY CHATURVEDI

यह भी देखें :-