Visitors have accessed this post 79 times.

सिकंदराराऊ।मंगलवार को महाराणा प्रताप राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, सिकंदराराऊ में प्राचार्या प्रो.शैफाली सुमन के कुशल दिशा-निर्देशानुसार मतदाता दिवस और उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस मनाया गया। मतदान दिवस के सुअवसर पर महाविद्यालय में लोकतंत्र की आवाज: जनतंत्र का विकास विषय पर संगोष्ठी का आयोजन हुआ। जिसमें महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं ने व्यापक स्तर पर सहभागिता कर अपने-अपने विचार व्यक्त किए। छात्रा गगन ने लोकतंत्र को लोगों का पर्व और मतदान को उसकी प्राणवायु कहा, वहीं छात्रा सलोनी ने नागरिकों में मतदान के प्रति जागरूकता उत्पन्न करने वाले विभिन्न स्लोगन प्रस्तुत किए। छात्र दुष्यंत, फरमान, आकाश पुंडीर, अभिषेक जैन आदि ने मतदाता दिवस और उत्तर प्रदेश स्थापना दिवस पर अपने-अपने विचार व्यक्त किए।
कार्यक्रम के मुख्य वक्ता डॉ.हिमांशु राय ने मतदाता दिवस के महत्त्व, नागरिकों को प्राप्त मतदान के अधिकार की ऐतिहासिक यात्रा और उत्तर प्रदेश राज्य की स्थापना-निर्माण प्रक्रिया को छात्र-छात्राओं के समक्ष विस्तृत रूप में रखा।
डॉ.अजब सिंह ने भी मतदान दिवस पर ‘लोकतंत्र की आवाज: जनतंत्र का विकास’ विषय पर अपने बहुमूल्य विचार व्यक्त किए।
महाविद्यालय की प्राचार्या प्रो.शैफाली सुमन ने भी अपने विचार व्यक्त कर छात्र-छात्राओं का ज्ञानवर्धन किया। प्राचार्या प्रो.शैफाली सुमन ने भारतीय लोकतंत्र में सार्वभौमिक मतदान के अधिकार को नागरिकों की बहुमूल्य उपलब्धि बताते हुए महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं के साथ-साथ भारत के नागरिकों को भी अपने मतदान के अधिकार का उपयोग धर्म, जाति, नस्ल आदि से परे होकर राष्ट्रीय हितों के आधार पर करने को प्रेरित किया।
कार्यक्रम का संचालन विश्वनाथ प्रताप सिंह ने किया।
इस अवसर पर प्रो.राम बहादुर, प्रो.मंजू उपाध्याय, डॉ. गोविंद अग्रवाल, अरवेश कुमार आदि उपस्थित रहे।