Visitors have accessed this post 70 times.

सिकंदराराऊ : अखिल भारतीय फार्मासिस्ट एसोसिएशन का एक प्रतिनिधि मंडल ने फार्मासिस्ट की विभिन्न समस्याओं को लेकर स्वास्थ्य महानिदेशक अध्यक्ष उत्तर प्रदेश फार्मेसी काउंसिल एवं निदेशक पैरामेडिकल रजिस्ट्रार उत्तर प्रदेश फार्मेसी काउंसिल से मुलाकात कर समस्याओं के समाधान हेतु एक ज्ञापन सौंपा।
एसोसिएशन के पदाधिकारियों ने बताया कि उत्तर प्रदेश फार्मेसी काउंसिल की कार्यशैली केवल शोषण और भ्रष्टाचार तक सिमट कर रह गई है। जिसके कारण प्रदेश के फार्मासिस्ट को वर्षो से आर्थिक और मानसिक रूप से शोषित होना पड़ रहा है। हजारों की संख्या मे रजिस्ट्रेशन और रिनुवल कार्य लंबित पड़े हैं। जिनको पूर्ण कराया जाए। ज्ञापन सौंपने के उपरांत पीपीआर 2015 लागू कराने के लिए उच्च न्यायालय की डबल बेंच मे याचिका दाखिल की।
इस अवसर पर राष्ट्रीय अध्यक्ष शशिभूषण सिंह, प्रदेश अध्यक्ष शिव कुमार, प्रदेश उपाध्यक्ष अजीत सिंह, प्रशांत सिंह ठाकुर, अलीगढ़ मंडल महासचिव राजीव चतुर्वेदी, मंडल अध्यक्ष बरेली विष्णु यादव, जिलाध्यक्ष बलिया रवीन्द्र यादव, भानू सिंह कोषाध्यक्ष प्रयागराज आदि फार्मासिस्ट बंधु मौजूद थे।

INPUT – VINAY CHATURVEDI

यह भी देखें:-