Visitors have accessed this post 71 times.

हाथरस : नगर के दिल्ली वाला मोहल्ला स्थित मंदिर श्री राधा मनोहर पर रेणुकानंदन भगवान श्री परशुराम जी महाराज का महा अभिषेक पूजन-अर्चना व यज्ञ किया गया श्री ब्राह्मण महासभा रजि हाथरस के तत्वाधान में

हुऐ महाभिषेक पूजन में आचार्य मनोज द्विवेदी व पंडित श्री महेश कुमार त्रिपाठी पंडित श्री कमल वशिष्ठ पंडित श्री गौरव शर्मा पंडित श्री रविंद्र शर्मा व अन्य विद्वान विप्रजनों के सानिध्य में वेदपाठियों ने मंत्रोच्चारण किया। जबकि मुख्ययजमान के रुप में पंडित मदन मोहन गौड अध्यक्ष ब्राह्मण महासभा रहे। जबकि यजमान रूप में पंडित सुभाष उपाध्याय बालकिशन शर्मा बालों गुरु पंडित के के रावत चमरूआ वाले पंडित सचिन गौड पंडित डॉक्टर विकास शर्मा पंडित मुन्नालाल दीक्षित पंडित बृजेश विशिष्ट संजीव पंडित जी मुकेश पंडित जी पंडित अतुल शर्मा चौपाइयां वाले पंडित अरविंद वशिष्ठ पंडित अवधेश शर्मा दर्शना राजू शर्मा जी पंडित प्रदीप गौतम पंडित नवीन जी,अजीत शर्मा, राजू कौशिक, पंडित धीरेन्द्र पाठक, पंडित प्रशांत शर्मा पंडित बबलू पाराशर पंडित कुलदीप वशिष्ठ पंडित सौरभ शर्मा पवन पंडित जी पंडित मनोज पाठक पंडित अशोक पचौरी आदि पूजन में उपस्थित थे।
इस अवसर पर वक्ताओं ने कहा कि रामायण, महाभारत, भागवत पुराण, कल्कि पुराण, हरिवंश पुराण, अध्यात्म रामायण इत्यादि विभिन्न ग्रंथों में भगवान परशुराम अवतार की कथा का वर्णन मिलता है। भगवान विष्णु के 10 अवतारों में परशुराम को छठा अवतार माना गया है। परशुराम को विष्णु का आवेशावतार भी कहा जाता है। उन्होंने यह भी बताया कि भगवान परशुराम विष्णु और शिव का संयुक्त अवतार माना गया है। शिव से उन्होंने संहार लिया और विष्णु से उन्होंने पालक के गुण प्राप्त किए।
इससे पूर्व अभिषेक-पूजन के बाद भगवान श्री परशुराम जी की भव्य आरती भी की गई और प्रसादी का वितरण किया गया। देर दोपहर तक माहौल जय घोषों से गुंजायमान रहा।