Visitors have accessed this post 37 times.

राज्यसभा चुनाव में बीजेपी के हाथों एक सीट पर शिकस्त खाने के बाद मीडिया के सामने आयी बसपा सुप्रीमो ने केन्द्र की सत्ताधारी पार्टी को आड़े हाथों लेते हुए उस पर हत्या की साजिश का आरोप लगाया। मायावती ने कहा कि बीजेपी सरकार मेरी हत्या कराना चाहती है। उन्होंने राज्य की सरकार से सवाल पूछते हुए कहा कि क्या योगी सरकार उनकी हत्या कराना चाहती है?

बीजेपी लगा रही जख्मों पर नकम
मायावती ने गेस्ट हाउस कांड को लेकर बीजेपी को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि यह जख्मों पर नमक छिड़कने जैसा करतूत है। उन्होंने कहा कि उसके लिए किसी भी सूरत में अखिलेश यादव को जिम्मेदार ठहराना गलत है।

हार का गठबंधन पर नहीं असर
मायावती ने कहा कि राज्यसभा में हार का बहुजन समाज पार्टी और समाजवादी पार्टी के गठबंधन पर थोड़ा सा भी असर नहीं पड़ेगा। उन्होंने आगे कहा कि हर हाल में वे लोकसभा चुनाव में बीजेपी को रोकेंगे। बसपा सुप्रीमो ने कहा, “मैं यह कहना चाहूंगी कि एसपी-बीएसपी का गठबंधन तोड़ने में बीजपी सफल नहीं हो पाएगी। कल का परिणाम एसपी-बीएसपी संबंध पर थोड़ा सा भी असर नहीं डा पाएगा।”

डर का माहौल बनाया गया

मायावती ने कहा कि राज्यसभा के शुक्रवार के परिणाम को लेकर हमारी राय बिल्कुल एक जैसी है। हम यह मानते हैं कि नरेन्द्र मोदी और अमित शाह अपने उम्मीदवार को जीतने के लिए सिस्टम का इस्तेमाल किया है। एक डर का माहौल बनाया गया जिसके चलते कुछ क्रॉस वोटिंग की गई। मायावती ने कहा कि बीजेपी ने सिर्फ भय का ही इस्तेमाल नहीं किया बल्कि उसने सारे तिकड़म अपनाए ताकि बीएसपी उम्मीदवार को किसी भी कीमत पर ना जीतने दिया जा सके।

उन्होने कहा कि एक योजना तैयार की गई थी कि हम साथ आएं ताकि भाजपा का उम्मीदवार चुनाव ना जीत सके। इस चुनाव में भी सुनिश्चित करने का प्रयास किया गया कि लोकतंत्र पर धब्बा ना लग पाए।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here