Visitors have accessed this post 210 times.

हाथरस : तरफरा रोड स्थित आरकेएसके इण्टरनेशनल स्कूल में शिक्षाविद् रविकान्त गुप्ता की प्रथम पुण्यतिथि पर उनका भावपूर्ण स्मरण किया। वक्ताओं ने स्व.रविकान्त गुप्ता के व्यक्तित्व एवम् कृतित्व पर प्रकाश डालते हुये बताया कि उन्होंने 25 वर्ष तक डीआरबी इण्टर कालेज में इण्टरमीडिएट कक्षाओं में टंकण विषय का अध्यापन कार्य करते हुये काफी यश एवं ख्याति अर्जित की। इसके अतिरिक्त वह अदम्य साहसी, सह्दय, दयालु, क्रिकेट के उत्कृष्ट खिलाड़ी एवं ख्याति प्राप्त कमेण्ट्रेटर थे।

43 वर्ष की अल्प आयु में उनका आकस्मिक एवं असामयिक निधन हो गया। उनकी यादागार को अक्षुण्ण बनाये रखने के लिए उनकी इच्छा के अनरूप उनके पिता प्रमुख शिक्षाविद स्वतंत्रा कुमार गुप्त ने तरफरा रोड पर शिक्षा क्षेत्रा के अविकसित क्षेत्रा में ज्ञान का दीप प्रज्वलित करते हुये श्रीरविकान्त स्वतंत्रा कुमार इण्टरनेशनल स्कूल की स्थापना की है। स्व.रविकान्त गुप्ता की प्रथम पुण्यतिथि पर कोरोना बीमारी के कारण कई वक्ता वीडियो कॉन्पफ्रेंसिग के जरिये जुड़ें। जिसमें सासनी विद्यापीठ इण्टर कालेज के पूर्व प्रधनाचार्य आरपी कौशिक, एमएलडीवी की प्रधनाचार्या नीरू गुप्ता, पूर्व प्रधनाचार्या शैलकान्ता गुप्ता, एबीवीपी के जिला प्रमुख आलोक गुप्ता, अशोक कुमार गुप्ता, कुमुद कुमार गुप्ता, राघवेन्द्र गुप्ता, कल्पना कुमारी, दीपिका गुप्ता, विश्वजीत, इं. दिव्यालोक, हर्षित गुप्ता, मोहक गुप्ता, युग गुप्ता, रेनू गुप्ता, समर्थ गुरू, प्रनिका, अनन्या, निराली, यूविका, राजेन्द्र प्रसाद, कल्पना शर्मा, पुनीत गुप्ता, मनीष कुमार आदि ने स्व0 श्री रविकान्त गुप्ता को श्रद्वांजलि अर्पित करते हुए कहा‘‘उजाले अपनी यादों के हमारे साथ रहने दो, न जाने किस गली में जिन्दगी की शाम हो जाये’’। अन्त में आरकेएसके इण्टरनेशनल स्कूल की प्रधनाचार्या श्रीमती पूनम वार्ष्णेय ने सभी का आभार व्यक्त किया।

इनपुट : राजदीप तोमर

यह भी पढ़े : CBSE classes का नया बैच तुरंत रेजिस्ट्रेन कराएं

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp