Visitors have accessed this post 241 times.

यह कहावत उस समय चरितार्थ हुई। जब कस्बा के अंतर्जातीय एक प्रेमी युगल ने समाज की सभी बंदिशों को ताख पर रखकर एक मन्दिर में विवाह रचा लिया। विवाह के बाद प्रेमी युगल अपनी सुरक्षा के लिए कोतवाली पहुँचा। जहाँ प्रेमी युगल ने पुलिस से सुरक्षा की गुहार लगाई है।
बताया जाता है कि कस्बा निवासी एक प्रेमी युगल का प्रेम परवान आज अपनी चर्म सीमा पर पहुँच गया। जब प्रेमी युगल के परिजनों को मामले की जानकारी हुई तो वह विरोध करने लगे। प्रेमी युगल ने समाज की सभी बंदिशों को तोड़ दिया और गुपचुप तरीके से कस्बा के एक मंदिर में पहुंचकर साथ जीने मरने की कसमें खाकर भगवान को साक्षी बनाकर प्रेम विवाह कर लिया। प्रेमी युगल अंतर्जातीय हैं।
प्रेमी युगल के मध्य प्रेमालाप काफी समय से चल रहा था। प्रेमी युगल प्रेम विवाह करने के बाद कोतवाली पहुँच गया। जहाँ प्रेमी युगल ने पुलिस को अपनी प्रेम कहानी से अवगत कराया। बाद में प्रेमी युगल ने पुलिस से अपनी सुरक्षा की गुहार लगाई । प्रेमी युगल अंतर्जातीय होने के कारण परिजनों के विरोध के चलते कोई अनहोनी न हो । इसलिए प्रेमी युगल ने पुलिस से सुरक्षा की मांग की है। अंतर्जातीय प्रेमी युगल द्वारा किए गए प्रेम विवाह की चर्चा कस्बा में पूरे दिन लोगो के बीच जारी रही।

INPUT – अनूप शर्मा

यह भी पढ़े : ऑक्सीजन की कमी महसूस होने पर,अपनाएं यह कुछ टिप्स

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave