Visitors have accessed this post 207 times.

सिकंदराराऊ : भारतीय किसान संगठन के कार्यकर्ताओं ने किसान नेता निशांत चौहान एवं युवा नेता रोहित राघव के नेतृत्व में किसानों की समस्यायों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम सम्बोधित एक ज्ञापन उपजिलाधिकारी विजय कुमार शर्मा को सौंपा। ज्ञापन में कहा गया है कि कोरोना संकट काल में सभी उधोग धंधे,सेवा क्षेत्र यतायात बंद रहे। वही गांव में किसान लगातार सब्जी,फल,गन्ना गेहूं आदि फसल लगभग बर्वाद हो गयी।गन्ना जून
के अंतिम सप्ताह तक मिलों में पहुंचाया गया ।किन्तु गन्ने का पैसा नहीं मिला।खाद एवं डीजल कृषि का आधार है। लगातार डीजल मूल्य वृद्धि ने किसान की कमर तोड़ दी है । डीजल एवं पेट्रोल की बढी कीमतों को बापस लिया जाए। सभी किसान मजदूरों के घरेलू एवं ट्यूबवेल के बिजली बिल एक वर्ष के लिए माफ किये जायें। किसान क्रेडिट कार्ड की लिमिट 4 ब्याज दर पर 3 लाख से 6 लाख कर दी जाये तथा ब्याज माफ करते हुए क्रेडिट कार्ड जमा करने की अवधि मार्च 2021 की जाए। गन्ना का मूल्य 450 रु प्रति कुंतल किया जाए ।बकाया भुगतान तत्काल ब्याज सहित कराया जाए। किसान परिवार यदि कोई लघु प्रोजेक्ट गांव में लगाना चाहता है तो उसे उसकी कृषि हैसियत अनुसार एक मुश्त ऋण
उपलब्ध कराये जाने की व्यवस्था बैंकों द्वारा कराई जाए। यदि किसानों की इन सभी समस्याओं का 15 दिन के अंदर संज्ञान नहीं लिया गया तो संगठन जनांदोलन के लिए मजबूर होगा।ज्ञापन देने वालों में देवेंद्र कुमार, अभय चैहान एड, रविन्द्र पाल सिंह, पवन ठाकुर, नीरज पुंढीर आदि थे ।

(अनूप शर्मा)