Visitors have accessed this post 306 times.

मौनी रॉय का जन्म 28 september को कूच विहार, पश्चिम बंगाल के एक मिडिल क्लास फ़ैमिली में हुआ था। उनके पिता, अनिल रॉय एक ओफीस सुपरिन्टेंडेंट का कार्य करते थे। वहीं उनकी माँ मुक्ति रॉय एक हाइ स्कूल में एक टीचर थी।मौनी रॉय के लिए यह God Gift था, कि उनका जन्म एक ऐसे परिवार में हुआ था। जहां हर फ़ैमिली मेंबर डांसिंग और सिंगिंग से जुड़ा स्किल जानते थे।उनके पिता और चाचा, दोनों अच्छी तरह से तबला बजाना जानते थे। उनकी माँ एक अच्छी गायक थी। वहीं उनकी चाची को गीतार बजाने में महारथ हासिल था। इसके अलावा उस जमाने में उनके दादाजी एक फ़ेमस थिएटर आर्टिस्ट थे।मौनी रॉय बचपन से इसी वातावरण में जीती रही, जो उन्हें एक बेहतर सिंगिंग, डांसिंग और एक्टिंग सीखा गया। इस कारण वो बचपन से ही स्कूली सांस्कृतिक प्रोग्रामों में जी-तोड़ भाग लेती थी। वैसे उनकी प्रारम्भिक शिक्षा, केन्द्रीय विद्यालय, कूच विहार से हुई।इसके साथ ही वो परिवार के बाहर कथक डांसिंग सीखने लगी। कॉलेज में आते ही मौनी ने कोरिओग्राफर के रूप में अपना कैरियर स्टार्ट की। यहाँ पर उनके काम को काफी सराहा गया।मौनी के टेलेंट को पंख लगा, जब वो स्टार प्लस पर प्रसारित होने वाली सीरियल “कभी सास भी कभी बहू थी” में एक बहू की रौल की अदा की। जिसमें उन्हें सभी टीवी दर्शकों से खूब प्यार मिला।इसके बाद Mouni Roy ने कस्तुरी, देवों के देव… महादेव, जुनून- ऐसी नफरत तो कैसा इश्क़ जैसी सीरियलों में काम की।पर वास्तव में मौनी एक अच्छी डांसर है। पर अब तक उन्हें नेशनल लेवल का मौका नहीं मिला था, लेकिन 2014 को कलर्स चैनल की “झलक दिखला जा” रिऐलिटि शो वो मौका लेकर आया, जहां वे अपनी उत्क्रष्ट डांसिंग कौशल को दिखा सकती थी। और उन्होंने इस मौके का फायदा उठाया और वे इस शो में अपनी परफ़ोर्मेंस से जवां दिलों को जीतने में कामयाब रही।फिलहाल वो नागिन सीरियल कर रही, जहां वो नागिन के वेश में दर्शकों को खूब भा रही। इसलिए उनके प्रॉडक्शन हाउस ने इस सीरियल की जीवन को जून तक बढ़ा दिया है।

input: komal agrawal

यह भी पढ़े : मार्च माह मे रिलीज़ होने वाली मूवीज़

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp