Visitors have accessed this post 89 times.

रजनीकांत की फिल्म काला की स्क्रीनिंग के दौरान गुरुवार को राज्य में कन्नड़ समर्थक कई कार्यकर्ताओं ने बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किया। जिन सिनेमा हॉल में यह फिल्म लगनी थी, उन्होंने फिल्म का प्रदर्शन करने से इनकार कर दिया। इससे दर्शकों, खासतौर पर रजनी के प्रशंसक काफी निराश हैं। फिल्म का प्रदर्शन जिन सिनेमाघरों में होना था, उनके सामने प्रदर्शनकारियों ने प्रदर्शन किए। प्रदर्शन में शामिल लोग रजनी के प्रशंसकों से कावेरी जल के लिए लड़ रहे अपने कन्नड़ भाईयों का समर्थन करने और फिल्म नहीं देखने का अनुरोध कर रहे थे। मैसूरु में भी विरोध प्रदर्शन के कारण फिल्म की स्क्रीनिंग में विलंब हुआ। हालांकि बेल्लारी और रायचुर जिलों में थियेटर मालिकों ने फिल्म का प्रदर्शन करने का फैसला किया। राज्य को छोड़कर बाकी की पूरी दुनिया में ‘काला’ बड़ी धूमधाम से रिलीज हुई।

अगर फिल्म की बात करें तो फिल्म को लेकर लोगों में खासा क्रेज दिखाई दे रहा है। चेन्नई में काला का पहला शो सुबह चार बजे से शुरू हुआ। और चार बजे से पहले से ही मूवी के लिए लोगों की भीड़ थिएटर के बाहर उमड़नी शुरू हो गई। लोगों में रजनीकांत को लेकर दिवानगी इस हद तक देखने को मिल रही है कि थिएटर के बाहर लगे रजनीकांत के पोस्टर्स पर फैंस दूध चढ़ा रहे हैं। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने बीते दिन फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने से इनकार कर दिया था। फिल्म का प्रोडक्शन रजनीकांत के दामाद धनुष की कंपनी वण्डरबार ने किया है। वहीं, फिल्म के निर्देशक पा रंजीत हैं।