Visitors have accessed this post 87 times.

मेल भेजने के लिए करोड़ों की संख्या में यूजर्स जीमेल का इस्तेमाल करते हैं। जीमेल पर आए मेल को काफी सुरक्षित माना जाता है। लेकिन आपको यह जानकर आश्चर्य होगा कि आपके भेजे गए मेल को कोई और भी पढ़ता है। जीमेल पर भेजे गए मेल्स पूरी तरह से सुरक्षित नहीं हैं। वॉल स्ट्रीट जर्नल की एक रिपोर्ट की मानें तो सॉफ्टवेयर डेवलेपर्स के लिए काम करने वाले कर्मचारी किसी भी निजी जीमेल मैसेज को पढ़ सकते हैं।

रिपोर्ट में जानकारी दी गई है कि सालभर पहले गूगल ने वादा किया था कि वह किसी भी यूजर के जीमेल में आए मेल को नहीं पढ़ेगा। लेकिन कंपनी ने जीमेल इनबॉक्स को प्रोटेक्ट करने के लिए बेहतर तरीके से काम नहीं किया। ऐसे जीमेल यूजर्स जिन्होंने ‘शॉपिंग प्राइस कम्पेरिजिन’, ‘ईमेल बेस्ड सर्विसेज’ के लिए साइन अप किया है, उनपर यह खतरा सबसे अधिक है। संभव है कि ऐसे यूजर्स के निजी मेल पढ़े जा रहे हों। रिपोर्ट में कहा गया है कि कई सौ एप डेवलेपर्स इन्हीं तरह के यूजर्स के मेल को ज्यादा पढ़ रहे हैं।

गूगल ने अभी तक इस रिपोर्ट पर कोई कमेंट नहीं किया है। बता दें कि दुनियाभर में जीमेल के 1.4 बिलियन यूजर्स हैं। यह संख्या अन्य मेल की सुविधा देने वाली 25 कंपनियों के यूजर्स को जोड़ भी दिया जाए तो भी अधिक है। गूगल की मानें तो कंपनी केवल बाहरी डेवलपर्स को डाटा देती है जिसने इसे सत्यापित किया हो और यूजर्स ने इसके लिए अनुमति दी हो। अगली स्लाइड में पढ़ें, गूगल का ‘वर्ज’ को इस संबंध में दिया बयान:

गूगल ने वर्ज को दिए बयान में कंफर्म किया है कि कंपनी यूजर्स के सत्यापन के बाद ही थर्ड पार्टी डेवलेपर्स को किसी भी तरह का डाटा देती है। इसके अलावा कंपनी ने यह भी कहा है कि कई डेवलेपर्स ने इस संबंध में उनसे जीमेल का एक्सेस मांगा था लेकिन कंपनी ने उन्हें अनुमति नहीं दी। वहीं, WSJ को दिए एक और बयान में गूगल ने कहा है कि कंपनी के कर्मचारी ईमेल को कुछ ही परिस्थितियों में पढ़ सकते हैं। हालांकि, उसके लिए उन्हें पहले अनुमति लेनी होती है। यह किसी स्पेशल केस में ही होता है या फिर जब कोई बग को ढृंढा जा रहा होता है तब।

Input ayushi

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here