Visitors have accessed this post 60 times.

जो लोग खराब मूड से सुबह उठते हैं, वह अपना पूरा दिन और मुश्किल बना लेते हैं। पेनसिलवेनिया में स्थित पेन स्टेट यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिकों के एक ताजा शोध में यह बात सामने आई है। वैज्ञानिकों ने अपनी नई रिसर्च में यह पाया है कि सुबह खराब मूड के साथ उठे लोग पूरे दिन संघर्ष करते रहते हैं। सुबह की नकारात्मक मानसिकता का असर पूरे दिन रहता है।

शोध के मुताबिक ऐसे लोग जो सुबह से ही यह सोच लेते हैं कि उनका दिन खराब रहने वाला है, तो इसका बुरा असर उनके दिमाग पर भी पड़ता है। सुबह नेगेटिव माइंडसेट रखने से मस्तिष्क बाद में काम करना धीमा कर देता है। इससे काम में गलती होने की आंशका बढ़ जाती है और ध्यान केंद्रित करने के लिए काफी संघर्ष करना पड़ता है। ऐसी स्थिति में कुछ बुरा न होने के बावजूद भी दिन खराब ही जाता है।

वैज्ञानिकों का कहना है कि उनकी इस रिसर्च से लोगों को खुश रहने में मदद मिलेगी। अगर लोग इन बातों को ध्यान में रखेंगे तो तनाव उन पर हावी नहीं होगा।

शोध में वैज्ञानिकों ने 240 व्यस्कों की मदद ली। उन्हें कहा गया कि इस बात पर ध्यान दें कि वह दिन में कितना तनावग्रस्त रहते हैं। उन्हें काम के दौरान अपनी याददाश्त का आकलन करने के लिए भी कहा गया। शोध में पाया गया कि जो लोग खराब मूड और तनाव के साथ सुबह उठे थे, उनका प्रदर्शन सबसे खराब रहा।

शोधकर्ता मार्टिन स्लिविंस्कीन ने कहा, ‘जब आप सुबह एक विशेष नजरिए के साथ उठते हैं तो कहीं न कहीं आप दिन के उत्साह को मार देते हैं। अगर आप सोचते हैं कि आपका दिन तनाव भरा रहने वाला है तो कुछ बुरा न होने के बावजूद भी आप दिन भर तनावग्रस्त रहेंगे।’

Input jay

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here