Visitors have accessed this post 75 times.

जलेसर त्रिस्तरीय पंचायत चुनावों में विकासखंड जलेसर सहित पूरे जनपद में गड़बड़ी किए जाने का मामला अब सामने आने लगा है ऐसा ही एक मामला जलेसर विकास खंड के गांव सरायनीम में बूथ नंबर 175 पर दिखाई दिया जहां विजई प्रत्याशी को पीठासीन अधिकारी के हस्ताक्षर ना होने का मामला दिखाकर तीसरे नंबर के प्रत्याशी को विजई घोषित कर दिया गया

मामले के संबंध में पीड़ित प्रत्याशी पूनम शर्मा पत्नी चंद्र दत्त शर्मा ने बताया कि 3 मई को हुई मतगणना में देर रात तक उन्हें 275 मत प्राप्त हुए थे जबक दूसरे नंबर की प्रेमलता को 234 एवं तीसरे नंबर की रमा गौतम को 233 मत प्राप्त हुए थे मतगणना पूरी होने के बाद भी चुनाव अधिकारी द्वारा विजेता को प्रमाण पत्र नहीं सौंपा गया 24 घंटे के बाद चुनाव अधिकारियों द्वारा दिए गए परिणाम में तीसरे नंबर के प्रत्याशी रमा गौतम को विजई घोषित कर प्रमाण पत्र सौंप दिया गया चुनाव अधिकारियों द्वारा बताया गया कि 254 मतपत्रों पर पीठासीन अधिकारी के हस्ताक्षर नहीं थे जिसमें 116 मत विजई प्रत्याशी पूनम शर्मा के 20 मत दूसरे नंबर की प्रेमलता के एवं 11 मत रमा गौतम के दर्शाते हुए गड़बड़ी कराई गई

इस संबंध में पीड़ित पराजित प्रत्याशी पूनम शर्मा ने चुनाव आयोग सहित अन्य उच्चाधिकारियों को भेजे शिकायती पत्र में मांग की है कि निरस्त मतों के संबंध में प्रत्याशियों का कोई दोष नहीं है ना ही ग्रामीणों का तो उसका परिणाम हमें क्यों दिलाया जा रहा है उनके पास लेखा पत्र की प्रतिलिपि भी है उन्होंने चुनाव आयोग से मांग की है कि निरस्त मतों की गणना करा कर पीड़ित प्रधान पद के प्रत्याशी को न्याय दिलाया जाए उनका कहना है कि उनके पास सारे सबूत मौजूद हैं लेकिन उसके बावजूद भी सुनवाई नहीं हो रही यह सुनवाई नहीं हुई तो वह जिलाधिकारी आवास पर आमरण अनशन को बैठने को मजबूर होगी एवं उच्च न्यायालय का दरवाजा भी खटखटाएंगे सनद रहे कि सरायनीम पंचायत के 175 बूथ संख्या पर जिला पंचायत सदस्य वार्ड नंबर 10 पर गडबड़ी पायी गयी जिसमे 3 अधिकारियों को निलंबन की संस्तुति की गयी है।

रिपोर्ट : मोहित शर्मा

यह भी पढ़े : कोरोना काल में बनाकर पीएं यह काढ़ा ,मिलेंगे काफी फायदे

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave