Visitors have accessed this post 32 times.

मथुरा 27 नवम्बर/ जिला समाज कल्याण अधिकारी रमाशंकर ने अवगत कराया है कि जनपद मथुरा कें 05 दिसम्बर के शुभ मुर्हत निर्धारित तिथि को ‘‘मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना‘‘ के अन्तर्गत वृहद आयोजन/मेगा इवंेट के रूप में आयोजित कराया जायेगा। योजनान्तर्गत सामूहिक विवाह कार्यक्रम में प्रतिभाग किये जाने वाले आवेदक द्वारा आवेदन के परिवार की वार्षिक आय रू0 02 लाख से अधिक न हो और अन्त्योदय कार्ड धारक परिवार हेतु आय प्रमाण पत्र के स्थान पर अन्त्योदय कार्ड मान्य होगा, विवाह हेतु किये गये आवेदन में पुत्री की आयु शादी की तिथि को 18 वर्ष या उससे अधिक होना अनिवार्य है तथा वर के लिए 21 वर्ष की आयु पूर्ण हो गयी हो, आयु की पुष्टि के लिए स्कूल शैक्षिक रिकॉड, जन्म प्रमाण पत्र, मतदाता पहचान पत्र, मनरेगा जॉब कार्ड, आधार कार्ड मान्य होगा, अनुसूचित जाति, अनुसूचिज जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग के आवेदकों को जाति प्रमाण पत्र प्रस्तुत करना होगा, विवाह हेतु निराश्रित कन्या, विधवा महिला की पुत्री, दिव्यांगजन अभिभावक की पुत्री, ऐसी कन्या जो स्वयं दिव्यांग हो, को प्राथमिकता प्रदान की जायेगी तथा कन्या का जनपद मथुरा का स्थानीय निवासी होना अनिवार्य है।
योजनान्तर्गत रू0 35 हजार कन्या के खाते में एवं 10 हजार रू0 का नवीन गृहस्थी हेतु सामान (विवाह संस्कार के लिए आवश्यक सामग्री) एवं 06 हजार रू0 भोजन, टैण्ट आदि की व्यवस्था हेतु प्रति जोड़ा व्यय किया जायेगा। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह का आयोजन ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक विकास खण्ड स्तर पर तथा शहरी क्षेत्रों में नगर निगम, नगर पालिका व नगर पंचायत स्तर पर होगा, जिसमें आवेदन करने के लिए आवश्यक प्रपत्रों के साथ अपना आवेदन संबंधित कार्यालय खण्ड विकास अधिकारी, नगर पालिका एवं नगर पंचायत स्तर पर उपलब्ध करा सकते हैं।
——
मथुरा 27 नवम्बर/ पं० दीन दयाल उपाध्याय वृहद पशु आरोग्य शिविर/मेला (मण्डल स्तर) का आयोजन दिनांक 27 एवं 28 नबम्बर 2021 को कोसीकला मण्डी परिसर किया जा रहा है, जिसमें पशुओं की सामान्य चिकित्सा, शल्यचिकित्सा आदि किया गया। उन्नत पशु प्रजनन एवं बाझंपन, भेड़ बकरियों की प्रमुख बीमारियों के कारण निदान एवं रोकथाम, उन्नत पशु प्रजनन एवं बाझपन निवारण समस्या एवं निदान सम्बन्धी जानकारी दी गयी।
जलवायु परिवर्तन का पशुपालन पर प्रभाव एव निराकरण, मछली पालन एवं विकास से सम्बन्धित जानकारी पशुओं से मानव में फैलने वाले सामान्य रोग चिकित्सा एवं सावधानियाँ, कुक्कुट पालन सम्भावनाएँ एवं आधुनिक तकनीकी, पशुपोषण एवं चारा उत्पादन सम्बन्धी जानकारी प० दीन दयाल चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय मथुरा के विषय वस्तु विशेषज्ञ द्वारा दी गयी। प्रश्नोत्तरी एवं पुरस्कार वितरण आदि कार्यक्रमों का आयोजन किया गया।
उपाध्याय पशु उ०प्र० पं० दीन दयाल उपाध्याय वृहद पशु आरोग्य शिविर/मेला (मण्डल स्तर) का उद्घाटन पशुधन, मत्स्य एवं दुग्ध विकास मंत्री लक्ष्मी नारायण चौधरी उ०प्र० सरकार द्वारा गौ पूजन करते हुये किया गया। उद्घाटन कार्यक्रम की अध्यक्षता कुलपति पं० दीन दयाल उपाध्याय पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय एवं गौ- अनुसंधान संस्थान, मथुरा उ०प्र० डॉ० जी०के० सिंह द्वारा की गयी, जिसमें डॉ० एस०के० मलिक निदेशक प्रशासन एवं विकास पशुपालन विभाग, उ०प्र० लखनऊ, डॉ० इन्द्रमणि निदेशक रोग नियंत्रण एवं प्रक्षेत्र पशुपालन विभाग लखनऊ, डॉ० अरविन्द सिंह मुख्य कार्यकारी अधिकारी उ०प्र० पशुधन विकास परिषद उ०प्र० लखनऊ एवं पशुपालन विभाग तथा अन्य सम्बन्धित विभाग के अधिकारियों/कर्मचारियों द्वारा प्रतिभाग किया गया तथा विभाग की उक्त योजनाओं से मेले में आये किसानो को लाभान्वित किया गया।
मेले में दिनांक 27-11-2021 को रात्रि 08 बजे कवि सम्मेलन का भी आयोजन किया जायेगा तथा मेले का समापन संजीव बालियान मा० केन्द्रीय मंत्री पशुपालन भारत सरकार द्वारा दिनांक 28-11-2021 को किया जायेगा।

INPUT – Uma Shanker Sharma

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE