Visitors have accessed this post 174 times.

सिकंदराराऊ : मौहल्ला ब्राह्मणपुरी पुरानी तहसील रोड स्थित शिशु शिक्षा मंदिर पेड़ वाले स्कूल में मान्यता प्राप्त प्राइवेट विद्यालय एसोसिएशन की एक बैठक संपन्न हुई। जिसमें प्राइवेट स्कूलों की समस्याओं को लेकर विचार-विमर्श किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि प्रदेश अध्यक्ष राजेश चौधरी का फूल मालाएं पहनाकर एवं स्मृति चिन्ह भेंट करके जोरदार स्वागत किया गया ।
प्रदेश अध्यक्ष राजेश चौधरी ने कहा कि देश की शिक्षा में प्राइवेट स्कूलों का महत्वपूर्ण योगदान है। प्राइवेट स्कूलों के सहयोग के बिना सरकार शिक्षा के क्षेत्र में अपने लक्ष्य को कभी हासिल नहीं कर सकती। दूर अंचल के ग्रामीण क्षेत्र में शिक्षा का प्रचार प्रसार एवं विस्तार करना हो या बच्चों को सस्ती और बेहतर शिक्षा उपलब्ध कराना प्राइवेट स्कूलों की महती भूमिका इस कार्य में रही है। कोरोना के दौर में भी प्राइवेट स्कूल संचालकों ने आर्थिक नुकसान उठाकर सरकार का हर कदम पर साथ दिया। लेकिन फिर भी आज प्राइवेट स्कूल संचालक अनेक समस्याओं से ग्रसित हैं । सरकार को स्कूल संचालकों की समस्याओं पर प्राथमिकता से चिंतन करते हुए उनका समाधान करना चाहिए।
इस अवसर पर देवेश सिसोदिया , नरेश चतुर्वेदी , नीरज धनगर, यशपाल सिंह, जसवंत सिंह, आदित्य बघेल , राजेंद्र सूफी, आर के जादौन , सतीश यादव , संजीव गौतम, रूपेंद्र सिंह , ब्रजेश यादव, रवि शर्मा आदि मौजूद रहे।

vinay

यह भी देखें :-