Visitors have accessed this post 45 times.

सिकंद्राराऊ : मातेश्वरी अहिल्याबाई होल्कर का परिनिर्वाण दिवस एलआरएस बघेल स्कूल सिकंदराराऊ में अहिल्याबाई जागृति मंच द्वारा मनाया गया। इस अवसर पर उनके चित्र के समक्ष दीप प्रज्वलित किया गया एवं माल्यार्पण किया गया । इसकी अध्यक्षता राजवीर सिंह बघेल ने की एवं संचालन जसवंत सिंह बघेल ने किया
मनोज राजोरिया ने सनातन धर्म के लिए बहुमूल्य योगदान देने के लिए मातेश्वरी की सराहना की और उनके आदर्शों का अनुसरण करने के लिए कहा।
जसवंत सिंह ने मातेश्वरी के शिक्षा से जुड़े कार्यों का उल्लेख किया।
युवा समाजसेवी नीरज धनगर ने कहा कि अहिल्याबाई न्याय की देवी थी और आज भी उनके न्याय प्रिय होने का उदाहरण दिया जाता है । आदित्य बघेल ने कहा कि नारी शिक्षा की पहल करने वाली प्रथम शासिका थीं। उन्हीं के प्रयासों से नारी चेतना विकसित की। सर्व सम्मान समाज के लिए अनेकों विकास कार्य किए।
इस अवसर पर अमर सिंह प्रधान, महेश चंद्र , ललितेश, दिनेश ,रमेश चंद्र, मनोज गोला, लक्ष्य , तनिष्क, जितेंद्र , रामवीर सिंह , योगेंद्र सिंह, राधेश्याम, रूपेंद्र सिंह एडवोकेट, राजबहादुर सिंह ,सत्येंद्र सिंह फौजी, भगवान सिंह आदि मौजूद रहे।

यह भी देखें :-