Visitors have accessed this post 89 times.

हाथरस : भाजपा जिला कार्यालय हाथरस पर भाजपा जिला प्रभारी चौ० देवेन्द्र सिंह एवं जिलाध्यक्ष गौरव आर्य द्वारा पूर्व प्रधानमत्री भारत रत्न श्री अटल विहारी भाजपेयी की पुण्यतिथि पर माल्यार्पण कर पुष्प अर्पित किये | जिला प्रभारी चौ० देवेन्द्र सिंह ने बताया कि वर्ष 1942 में अटल बिहारी वाजपेयी जी ने अपनी राजनीतिक जीवन के सफर की शुरुआत की थी उस समय भारत छोड़ो आंदोलन जोर शोर से चल रहा था और इसी दौरान उनके भाई को इस आंदोलन में गिरफ्तार कर लिया गया था। इनके भाई को 23 दिनों के लिए कारावास में रहना पड़ा था, उसी समय उनकी मुलाकात श्यामा प्रसाद मुखर्जी से हुई और उनके आग्रह करने पर उन्होंने भारतीय जनसंघ पार्टी को ज्वाइन कर लिया। भारतीय जनसंघ पार्टी का गठन सन् 1951 में हुआ था। वर्ष 1957 में जनसंघ पार्टी द्वारा अटल बिहारी वाजपेयी जी को अपने उम्मीदवार के रूप में उत्तर प्रदेश जिले के बलरामपुर लोकसभा सीट से चुनाव के लिए टिकट दी गयी और अटल जी ने लोकसभा चुनाव में अपनी पहली जीत दर्ज की। इसके बाद उनकी उपलब्धि को देखते हुए उन्हें पार्टी का अध्यक्ष बनाया गया। जिलाध्यक्ष गौरव आर्य ने बताया कि अटल जी 2 साल तक मोरारजी देसाई कि सरकार में वर्ष 1977 से 1979 तक विदेश मंत्री रहे जिससे हमारे देश की प्रति विदेशों में एक विश्वासी देश की पृष्ठभूमि तैयार करने में उनका बहुत योगदान रहा। वर्ष 1980 में अटल बिहारी वाजपेयी जी ने अपनी एक पार्टी का गठन किया जो थी भारतीय जनता पार्टी और 06 अप्रैल 1980 को अध्यक्ष के रूप में कार्यभार संभाला। लोकसभा चुनाव सन् 1996 में भारतीय जनता पार्टी का देश भर में पहला विजय चुनाव रहा। इस चुनाव से बीजेपी ने देश में पहली बार अपनी सरकार को स्थापित किया और 06 मई 1996 को देश के दसवें प्रधानमंत्री के रूप में अटल जी ने शपथ ली। 19 मार्च 1998 में अटल जी ने दूसरी बार प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली और 10 अक्टूबर 1999 को तीसरी बार प्रधानमंत्री पद के लिए शपथ ली। इस अवसर पर हरिशंकर राना (भूरा पहलवान), रुपेश उपाध्याय, शिवदेव दीक्षित, अन्नत्वीर सोलंकी, आदि भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित रहे |