Visitors have accessed this post 50 times.

सिकंद्राराऊ : बेसिक शिक्षा परिषद के विद्यालयों को विभाग द्वारा उपलब्ध कराए गए टैबलेट के माध्यम से विद्यालय में अध्यनरत छात्रों की उपस्थिति तथा मध्याह्न भोजन की सूचना ऑनलाइन भेजने का दबाव विभागीय अधिकारियों द्वारा डाला जा रहा है। विभागीय अधिकारियों द्वारा शिक्षकों के साथ अमर्यादित व्यवहार तथा वेतन रोकने जैसी कार्रवाई की जा रही है । विभाग द्वारा केवल टैबलेट उपलब्ध कराया गया है परंतु टैबलेट को सक्रिय करने हेतु सरकारी सिम कार्ड उपलब्ध नहीं कराया गया है निरीक्षणकर्ता अधिकारियों द्वारा शिक्षकों को अपने व्यक्तिगत आई.डी.के माध्यम से सिम कार्ड खरीदने के लिए दबाव बनाया जा रहा है जो कि नियमानुकूल नहीं है एवं शिक्षकों का उत्पीड़न है । प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा उत्तर प्रदेश शासन लखनऊ के साथ उत्तर प्रदेश की प्राथमिक शिक्षक संघ के प्रांतीय प्रतिनिधिमंडल की 30 अक्टूबर 2023 एवं 9 नवंबर 2023 को हुई। वार्ता में शिक्षकों की विभिन्न समस्याओं का निराकरण किया जाने हेतु समिति बनाई गई थी परंतु चार माह बीत जाने के उपरांत भी शिक्षकों की किसी समस्या का समाधान नहीं किया गया। इस प्रकार शिक्षकों की समस्याओं का निराकरण न करके केवल शिक्षकों का उत्पीड़न किया जा रहा है ।विभाग द्वारा उपलब्ध कराए गए टैबलेट को सक्रिय करने हेतु सरकारी सिम कार्ड उपलब्ध कराया जाए। शिक्षकों को भी राज्य कर्मचारियों की भांति एक कैलेंडर वर्ष में 31 दिवस का उपार्जित अवकाश प्रत्येक माह का द्वितीय शनिवार अवकाश तथा अर्द्ध आकस्मिक अवकाश अनुमन्य किया जाए । यदि शिक्षकों का उत्पीड़न बंद करते हुए उपरोक्त मांगों का शीघ्र निस्तारण नहीं किया जाता है तो जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी कार्यालय एवं शिक्षा निदेशालय लखनऊ पर धरना देना शिक्षकों की बाध्यता होगी जिसका संपूर्ण उत्तरदायित्व विभाग का होगा। इन्ही मांगों के संदर्भ में खण्ड शिक्षा अधिकारी को ज्ञापन सौंपा गया।
ज्ञापन देने वालों में विजयवीर सिंह, शैलेंद्र कुमार चौहान , कृष्णकांत कौशिक, राधेश्याम बादल , उज्मा खान , प्रमोद कुमार, सुरेंद्र सिंह चौहान, प्रवीण सोमानी, धर्मेन्द्र कुमार त्यागी, प्रदीप कुमार शर्मा, मुनेश शर्मा, यशवीर सिंह ,रजनी सिंह ,अमन सक्सैना, विनोद कुमार, दीपिका उपाध्याय ,क्षमा चौधरी ,यास्मीन अख्तर ,पूर्णिमा शर्मा, इलियास मोहम्मद ,मधु शर्मा, विवेक कुमार, कुलदीप पचौरी, तिलक सिंह, सचिन पचौरी प्रमुख रूप से उपस्थित थे।

INPUT – VINAY CHATURVEDI

यह भी देखें:-