Visitors have accessed this post 285 times.

दिल्ली | 20 साल पुराने काला हिरण शिकार मामले में जोधपुर की सीजीएम कोर्ट में सलमान खान को दोषी पाया है. कोर्ट ने उन्हें पांच साल की जेल और 10 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई.

इस मामले में उनके साथ सैफ अली खान, तब्बू, नीलम, सोनाली बेंद्रे और एक दुष्यंत भी आरोपी थे, जि‍न्हें कोर्ट ने बरी कर दिया. सभी सुनवाई के लिए जोधपुर पहुंचे थे. अब बताया जा रहा है कि सलमान सजा सुनाए जाने के बाद जेल में आसाराम के साथ ही रहेंगे. वैसे सलमान के पास अभी ऊपरी अदालतों में जाने का विकल्प है. उम्मीद यह भी है कि उन्हें बेल मिल जाएगी.

स्थानीय अखबारों के मुताबिक़ जोधपुर में सलमान के मामले की सुनवाई के लिए व्यापक तैयारियां की गई थीं. कोर्ट के बाहर व्यापक सुरक्षा व्यवस्था के इंतजाम किए गए हैं.

राजस्थान पत्रिका की एक खबर के मुताबिक़ जेल जाने की स्थिति में सलमान को सेंट्रल जेल की बैरक नंबर दो में रखा जा सकता है. इसी बैरक में छात्रा से यौन उत्पीड़न का आरोपी आसाराम भी बंद है. अभिनेत्रियों को सजा मिलती है तो उन्हें सामान्य कैदियों की तरह महिला बैरक में रखा जाएगा

  • क्यों आसाराम के साथ बैरक में रखे जाएंगे सलमान
सलमान खान को आसाराम के साथ रखे जाने की वजह है. दरअसल, आसाराम जिस बैरक में हैं वह हाई सिक्युरिटी है. सलमान सेलिब्रिटी हैं तो उन्हें उसी बैरक में रखना ठीक माना जा रहा है. हालांकि सलमान शायद जेल जाने से बच जाए.
  • सुरक्षा पर ख़ास ध्यान
 गैंगस्टर लॉरेंस की धमकी के मद्देनजर पुलिस सलमान की सुरक्षा पर ख़ास ध्यान दे रही है. कोर्ट के बाहर तीन स्तरीय बैरीकेट्स बनाए गए हैं. कोर्ट में मामले से जुड़े लोगों को ही जाने की अनुमति थी.
पिछली बार सजा के बाद सलमान को जेल के बैरक नंबर एक में रखा गया था. वो अगस्त में सात दिन के लिए जेल में रहे. उनकी पहचान कैदी नंबर 343 के रूप में थी. सलमान की बैरक में महेश नाम का एक कैदी भी था. उन्हें टॉयलेट और मच्छरों से परेशान रहना पड़ा था.

यह भी पढ़े : the most famous turist places

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp