Visitors have accessed this post 159 times.

सिकंदराराऊ : भाईचारा सेवा समिति के तत्वावधान में आज विश्व पर्यावरण दिवस के मौके गांव नगला जलाल में पर्यावरण गोष्ठी आयोजित की गई। जिसकी अध्यक्षता डोरीलाल सिंह ने की तथा संचालन देवेन्द्र कुमार ने किया ।
मुख्य अतिथि भाईचारा सेवा समिति के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेश यादव संघर्षी व राष्ट्रीय संयोजक संजय सिंह ने सम्बोधित करते हुए कहा कि वृक्षो के अत्याधिक कटान ने पर्यावरण को सबसे अधिक क्षति पहुँचाई है । वर्तमान में मानव समाज प्रकृति से अधिक दूरी बनाता जा रहा है । जिस कारण मानव की सुरक्षा एवं संरक्षा दोनों का अस्तित्व संकट में चला गया है । जिसकी परिणिति भयंकर रोगों ,अनपेक्षित आपदाओं और महामारियों के रूप में हम सब के समक्ष प्रकट हो रही है ।कोरोना जैसी महामारी भी कहीं न कहीं प्रकृति की क्षति के कारण ही है । कोरोना का दुष्प्रभाव केवल और केवल मानव निर्मित वस्तुओं पर ही है । प्रकृति या प्राकृतिक संसाधनों पर नही । इसलिए हम सभी को पर्यावरण की सुरक्षा को मूल कर्तव्य में शामिल करते हुए प्रकृति के संग रहने की आदत डालनी होगी । अपील करते हुए कहा कि ” वृक्ष लगायें- धरा बचायें ”
भाईचारा सेवा समिति के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष हरपाल सिंह यादव ने गोष्ठी में उपस्थित सभी किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि वृक्ष अवश्य लगाएं, एक वृक्ष एक पुत्र समान है।
इस अवसर पर मुकेश कुमार यादव,विशाल यादव,मुन्नालाल,शेर सिंह, प्रेमपाल सिंह, भूपेंद्र सिंह, टीटू यादव,विनय कुमार आदि लोग मौजूद रहे।

INPUT – अनूप शर्मा