Visitors have accessed this post 359 times.

यह घटना गुरु और शिष्य के बीच के संबंध को शर्मसार करने वाली है. आखिर में हमारा समाज किस ओर जा रहा है बेहद घिनौना कृत्य है .थाने से रिस्पांस ना मिलने पर परिवार ने एसएसपी से लगाई गुहार, आरोपी पक्ष शिक्षक लगातार परिवार पर राजीनामा का दबाव बना रहा है.

न्‍यूआगरा क्षेत्र में सनसनीखेज मामला सामने आया है। परिचित के बच्‍चों को ट्यूशन पढ़ाने वाले ट्यूटर ने एक किशोरी को किताबें देने के बहाने लाइब्रेरी में बुलाया। लाइब्रेरी में किशोरी के साथ दुष्‍कर्म किया और मोबाइल से वीडियो भी बनाई। इसके बाद सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल करने की धमकी देते हुए कई बार शारीरिक शोषण किया।

इसके चलते किशोरी सहमी-सहमी रहने लगी। मां को व्‍यवहार मेंं बदलाव दिखा तो उन्‍होंने पूछताछ की, तब जाकर मामला खुला। इलाका पुलिस ने तो घर वालों को यूं ही टरका दिया। अब मामला पुलिस कप्‍तान पर पहुंचा है तो पुलिस हरकत में आई है। आरोपित की धरपकड़ को दबिश दी जा रही हैं।

थाना न्यू आगरा क्षेत्र में ट्यूशन पढ़ाने वाले युवक ने किशोरी से दुष्कर्म करके मोबाइल से अश्लील वीडियाे बना लिया। इसके बाद ब्लैकमेल करके कई बार उसका शारीरिक शोषण किया। किशोरी द्वारा स्वजनो को इसकी जानकारी देने के बाद उन्होंने थाने पर तहरीर दी। पुलिस कार्रवाई से असंतुष्ट पीड़ित परिवार ने गुरुवार काे एसएसपी के यहां शिकायत की।

न्यू आगरा क्षेत्र निवासी एक किशोरी के सगे संबंधी के बच्चों को आरोपित युवक ट्यूशन पढ़ाता है। इसके चलते वह किशोरी से भी उसका परिचय है। किशोरी का आरोप है कि युवक ने उसे किताब लेने के बहाने न्यू आगरा क्षेत्र स्थित एक लाइब्रेरी में 27 मई को बुलाया था। वहां उससे चाकू की नोंक पर धमकी देकर दुष्कर्म किया।

इस दौरान अपने मोबाइल से उसकी आपत्तिजनक वीडियो बना ली। इसके बाद उसे सोशल मीडिया में वायरल करने की धमकी देकर ब्लैकमेल करने लगा। आरोपित ने उसे एक जून को धमकी देकर दोबारा लाइब्रेरी बुलाकर दुष्कर्म किया।

इससे किशोरी दहशत में आ गयी। उसके व्यवहार में आए बदलाव देखकर मां ने बात की। किशोरी ने मां को अपने साथ हुई घटना की जानकारी दी। इसके बाद स्वजनों ने आरोपित के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के लिए न्यू आगरा थाने पर तहरीर दी। मगर, पुलिस द्वारा कार्रवाई कर आरोपित को गिरफ्तार नहीं किया गया। इस पर स्वजनों ने गुरुवार काे एसएसपी कार्यालय पहुंचकर शिकायत की। पीड़ित परिवार का अारोप है कि आरोपित पक्ष उन पर राजीनामा करने का दबाव बना रहा है |

INPUT – Mahipal singh