Visitors have accessed this post 62 times.

सासनी : किसानों ने तहसील परिसर के बाहर सरकार द्वारा जारी तीन कृषि कानून के विरोध व किसान उपज को सी-2़़ 50 के अनुसार एसएसपी पर कानून बनाने के प़क्ष को लेकर किसान आंदोलन के छह माह पूरे होने पर तथा किसान मजदूर विरोध केन्द्र सरकार के काले सात वर्ष पूर्ण होने पर भारतीय किसान यूनियन के पदाधिकारियों ने काला दिवस मनाते हुए हवन यज्ञ कर सरकार की बुद्धि शुद्धि के लिए आहूतियां दी।
किसानों ने हवन यज्ञ के दौरान कहा कि राष्ट्रीय अव्हान पर भारत किसान काला दिवस मनाने को मजबूर है। क्योंकि सरकार ने गत वर्षों में बिजली डीजल, की दरों को बे हिसाब बढा दिया है। वहीं किसान कर्जे में डूबकर आत्महत्या को मजबूर हो रहा है। किसानों का अरोप था कि सरकार जानबूझकर किसानों केा तबाह करना चाहती है। सरकार सभी फसलों को सस्ते दामों में खरीदकर किसानों द्वारा की जा रही कमरतोड मेहनत के बाद भी उन्हें अपनी फसलों का सही रेट नही मिल पा रहा है। किसानों ने कहा कि सरकार की बुद्धि शुद्धि के लिए हवन यज्ञ कर आहूतियां दी है। जिससे ईश्वर सरकार को सद्बुद्धि दे और किसान मजदूर को पूंजीपतियों को हाथों में देकर स्वाभिमान भारत की रक्षा कर सके। आहूतियां देने वालों में मलिखान सिंह, योगेन्द्र उपाध्याय, गजेन्द्र सिंह, जगवीर सिंह, प्यारे लाल, दिगंबर सिंह, श्यामवीर सिंह, चरन सिंह, सोनवीर सिंह, प्यारेलाल, मनोज प्रभाकर, बलवीर सिंह, राजवीर सिंह, चरन सिंह, बच्चू फौजी, राजन, जोरावर सिंह, कन्हैया लाल, शिवराम सिंह, दलवीर सिंह, हरीमोहन, राजकुमार सिंह, एदल सिंह, होशियार सिंह, धैनी चैधरी, तनू चैधरी, सीमा देवी, शकुंतला, हेमलता, पूनम, ऊषा सिंह, पूनम देवी, सीमा देवी, आदि मौजूद थे।

इनपुट : आविद हुसैन

यह भी पढ़े : सलमान खान की फिल्म राधे का रिलीज होने के बाद कैसा रहा परफॉर्मेंस

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave