Visitors have accessed this post 94 times.

हाथरस : बार काउंसिल ऑफ उत्तर प्रदेश के आह्वान पर समूचे उत्तर प्रदेश के साथ साथ हाथरस तहसील सदर में भी अधिवक्तागण न्यायिक कार्य से पूर्णतः विरत रहे ,ज्ञात हो कि दिनांक 18.10.2021 को जनपद शाहजहांपुर न्यायालय परिसर में भूपेंद्र सिंह एडवोकेट की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी जिससे समूचे उत्तर प्रदेश के अधिवक्ताओं में भारी आक्रोश व्याप्त है, आज तहसील सदर में अध्यक्ष लीलाधर पिप्पल एड की अध्यक्षता में एक बैठक हुई जिसका संचालन सहसचिव शशांक पचौरी एड ने किया, तदोपरांत एक ज्ञापन उपजिलाधिकारी सदर राजकुमार यादव को सौंपा गया , जिसमे मांग की गई कि मृतक अधिवक्ता के परिवारीजनों को 50 लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाए और उनके आश्रित को सरकारी नौकरी दी जाए,तत्काल प्रभाव से एडवोकेट प्रोटेक्शन एक्ट लागू किया जाए तथा तहसील परिसर में असलाह लेकर आने वालों को रोका जाए सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए जाएं , उपजिलाधिकारी ने सभी अधिवक्ताओं को आश्वासन दिया कि आपका ज्ञापन मा.मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश शासन को भिजवा दिया जाएगा और स्थानीय स्तर की समस्याओं का जल्द ही निराकरण करा दिया जाएगा । ज्ञापन देंने वालों में प्रमुख रूप से पूर्व अध्यक्ष गिरीश चंद्र गौड़, प्रमोद गोस्वामी ,राकेश चौधरी, ब्रजकान्त बाबू , राजकुमार अग्निहोत्री , राकेश कुमार शर्मा, शशांक पचौरी , राहुल वशिष्ठ , ललित श्रोती , रजनीश गौतम, नितिन जैसवाल ,अतुल शर्मा ,मुन्नालाल निमेष ,नरेश कुमार सिंह आदि अधिवक्ता मौजूद रहे।