Visitors have accessed this post 52 times.

रायबरेली :  उत्तर प्रदेश सरकार ने भले ही उपभोक्ताओं के लिए त्वरित समस्याओं के समाधान के लिए ऑनलाइन सुविधा प्रदान की हो पर अब यही ऑनलाइन सुविधा लोगो के गले की फांस बनता दिखाई दे रहा है। रायबरेली में पान की गुमटी के सहारे किसी तरह परिवार का गुजर बसर करने वाले उपभोक्ता को दो महीने का 16 लाख 18 हजार का बिजली का बिल थमा दिया बिजली विभाग ने, बिल मिलते ही उसके पैरों तले जमीन खिसक गई । पीड़ित अपना दुखड़ा जगतपुर एसडीओ और ऊंचाहार एक्सईएन को सुनाया लेकिन सुनवाई नहीं हुई जिससे पीड़ित अब काफ़ी परेशान है और अपना बिल संसोधित करने की गुहार लगा रहा है।

रायबरेली जिले के दीन शाह गौरा बाजार का रहने वाला तीरथ राज पान की दुकान चलाता है उसने बताया कि वह हर महीने बिजली का बिल जमा करता है अगस्त में उसने बिजली का बिल जमा किया अक्टूबर में जब वह बिल जमा करने विद्युत उपकेंद्र गदागंज पहुंचा तो उसे 16 लाख 18 हजार रुपये का बिजली का बिल थमा दिया गया उसने बताया है कि वह झोपड़ी में परिवार के साथ रहता है कहने को एक बल्ब और पंखा चलाता है इसके बावजूद इतना ज्यादा बिल दे दिया गया जब उसने इसकी शिकायत उपखंड अधिकारी वरुण कुमार और ऊंचाहार में की तो उसे चलता कर दिया गया वह फिर संशोधन के लिए भटक रहा है।

Input : Ravindra singh

यह भी देखे : हाथरस के NINE to 9 बाजार में क्या है खास 

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave