Visitors have accessed this post 322 times.

मुरसान (हाथरस ): मुरसान थाने पर लम्बे समय से बंदरों का आतंक हैं। बंदरों की संख्या दर्जनों में न होकर सैकड़ों में हो गयी है। यहां रोजाना  लोग बंदर के शिकार हो जाते हैं। शरारती बंदर जनता को थाने में नहीं घुसने देते हैं। बंदर किसी के जूता चप्पल तो किसी के खाने का सामान जरा सी निगाह चूकने पर लेकर भाग जाते हैं। यदि लोग इनको भगाने की कोशिश करते हैं तो ये बंदर मिलकर हमला बोल देते हैं। इससे पुलिस कर्मचारी भी काफी परेशान हैं। वहीं यहा किसी से भी भूल हुई तो उनके कपडे़ बंदर फाड़कर -चीथडे उड़ा देते हैं। वैसे तो पूरे मुरसान  में बंदरों का साम्राज्य है। बन्दरों ने कई लोगों पर हमला बोलकर उन्हें घायल कर दिया है। बच्चों का सड़कों पर चलना मुश्किल हो रहा है। अब बात मुरसान कोतवाली करे तो यहाँ पर  मुरसान कोतवाली के प्रभारी योगेश कुमार सिरोही पर बन्दरो ने हमला कर दिया । बन्दरो की  वजह से उनके हाथ की हड्डी टूट गई उनका उपचार आगरा में चल रहा है । अब यह देखने वाली बात होगी इस खबर के बाद वन विभाग क्या एक्सशन लेता है ।
रिपोर्ट : ब्रजमोहन ठेंनुआ
अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप