Visitors have accessed this post 156 times.

सिकंदराराऊ : गत रात से गड़गड़ाते बादलों ने बरसना क्या शुरू किया ठंड से लोग ठिठुर उठे । हालात कुछ ऐसे बन गये कि अचानक मौसम के द्वारा ली गई करबट से लोग जहां घरों में कैद हो कर रह गये वहीं पशु पक्षी तक ठंड की ठिठुरन के चलते अलोप से हो गये । मौसम में हुये बदलाब और सर्दी की सिरहन को देख अधिकांश लोग अपने घरों में ही कैद हो गए।बच्चे स्कूल कॉलेजों में भी नही जा सके बच्चे।जल भराव व कीचड़ की दिक्कत भी बनी बड़ी समस्या।एक ओर किसानों को जहां वारिश से सुकून हुआ बहीं तेज हवाओं से फसलों को काफी नुकसान भी हुआ। लेकिन वहीं रात्रि से सुबह तक जारी बरसात से लोगों को नुकसान ही नुकसान है आलू व गेंहू खेती में काफी नुकसान हुआ और आलू के खेत मे पानी भर जाने से आलू की फसल ।काफी इलाकों मे खराब होने की कगार पर है तो वही ठंड इतनी बढ़ गयी है कि लोग घरों बाहर निकल ही नही रहे हैं ठिठुरन काफी बढ़ गयी है। जिससे लोगों को समस्या का सामना करना पड़ रहा है |

INPUT – Ravindra yadav

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here