Visitors have accessed this post 96 times.

(Input: Vikas Johari) इस बात में कोई शक नहीं कि शादी, इस बात की गारंटी नहीं है कि आपकी सेक्स लाइफ शानदार होगी। बहुत से कपल्स ऐसे हैं जिन्हें अपने पार्टनर के साथ सेक्शुअल कम्पैटिबिलिटी बनाने में परेशानी होती है। कई बार बहुत से लोग अपने पति या पत्नी से सिर्फ इसलिए कुछ बातें छिपाते हैं ताकि उन्हें संतुष्टि मिले और उनका ईगो हर्ट न हो। ऐसे में दोनों पार्टनर्स के बीच सेक्स को लेकर आपसी समझ बनी रहे इसके लिए कुछ सीक्रेट्स जानना जरूरी होता है…

मैं ऑर्गैज्म हासिल करने का दिखावा करती हूं

‘मेरी शादी को 1 साल से ज्यादा का वक्त हो चुका है और मेरे पति ने अब तक एक बार भी मुझे ऑर्गैज्म फील नहीं कराया। मुझे इस बात का एहसास हो गया है कि पति के पास इतना धैर्य ही नहीं है कि वे क्लिटरल स्टिम्युलेशन के जरिए मुझे क्लाइमैक्स तक लेकर जाएं। उन्हें इस बात की गलतफहमी है कि मैं भी पेनिट्रेटिव सेक्स के जरिए ऑर्गैज्म हासिल करती हूं और मैंने भी उनके इस भ्रम को आजतक दूर नहीं किया है।’

हम दोनों की पसंद अलग-अलग है

‘काश, मैंने शादी से पहले ही अपने पति के साथ सेक्शुअल कम्पैटिबिलिटी चेक कर ली होती। उन्हें रफ सेक्स, रोल प्लेइंग, बॉन्डेज और इस तरह का किंकी सेक्स पसंद है। उनकी फैन्टसीज ऐसी होती हैं जिनसे मुझे कभी उत्तेजना महसूस नहीं होती। अगर मैं अपनी बात करूं तो मैं अपने पति से बिलकुल विपरित हूं सेक्शुअल प्रेफरेंस के मामले में। हमारी नई-नई शादी हुई है लिहाजा मैं सही समय का इंतजार कर रही हूं जब मैं अपने पति से अपने मन की बात कह सकूं।’

उनका गैर-जिम्मेदार व्यवहार मुझे पसंद नहीं

‘कई बार ऐसा होता है जब मेरा पार्टर गैर-जिम्मेदार तरीके से व्यवहार करता है और मुझे इस बात के लिए मनाने की कोशिश करता है कि हम बिना किसी प्रोटेक्शन के सेक्स करें। उस वक्त मैं अपने गुस्से पर काबू रखती हूं और प्यार से मना कर देती हूं। इतना पढ़ा-लिखा होने के बावजूद उसका यह बेवकूफाना ऐटिट्यूड मुझे बिलकुल पसंद नहीं है और मुझे यकीन है कि एक दिन इस बात पर मेरा गुस्सा फूट पड़ेगा।’

प्रेग्नेंसी के बाद मैं सेक्स इंजॉय नहीं करती

‘मेरे दूसरे बच्चे के जन्म के बाद से मेरी सेक्स लाइफ पूरी तरह से खत्म हो गई है। ना ही मुझे खुद से कभी इंटरकोर्स करने की इच्छा होती है और अगर कभी पति सेक्स करते भी हैं तो मैं उसे इंजॉय नहीं करती। मेरे पति को लगता है कुछ नहीं बदला और सबकुछ पहले जैसा ही है लेकिन हकीकत यह है कि मेरी कामेच्छा (सेक्स ड्राइव) खत्म हो चुकी है।’

अब वह मुझे पहले जितना आकर्षक नहीं लगता

‘जब हमारी शादी हुई तब मेरे पति हमारी सेक्स लाइफ को रोमांचक बनाने के लिए हर संभव कोशिश किया करते थे। वह मेरी पसंद-नापसंद को हमेशा ध्यान में रखते थे और इस तरह मेरी सेक्स लाइफ एकदम परफेक्ट थी। लेकिन समय के साथ वह मुझे नजरअंदाज करने लगे हैं। अब वह अपने लुक्स की बिलकुल परवाह नहीं करते, मुझे क्या चीज खुशी देती है या मैं किस चीज से उत्तेजित होती हूं इस बात की बिलकुल परवाह नहीं करते। सेक्स अब मेरे लिए बोरिंग डेली रूटीन बन गया है जिस वजह से मेरी उत्तेजना भी खत्म होती जा रही है।’

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here