Visitors have accessed this post 191 times.

सिकंदराराऊ (हाथरस) : एक ओर कोरोना महामारी से जूझ रहे देश मे सामाजिक संस्थाओं एवं सेवाभावी लोग आम समाज की खाद्य आपूर्ति में सहयोग कर रहे है। वही तहसील क्षेत्र के कुछ राशन डीलर आपूर्ति विभाग के अधिकारियों के सहयोग से राशन घोटाला करने में जुटे हुए है। उक्त बातें कर्मयोग सेवा संघ के अध्यक्ष विवेकशील राघव ने अपने कार्यालय पर बुलाई पत्रकार वार्ता के दौरान कही।

उन्होंने कहा है कि क्षेत्र के कुछ राशन डीलर 5 किलो प्रति राशन के स्थान पर उपभोक्ता को 4 किलो प्रति राशन का वितरण कर रहे है और निःशुल्क वितरण किए जाने वाले राशन का शुल्क वसूल रहे है। वही मृतकों के नाम पर भी राशन दिया जा रहा है और अपात्रों को भी राशन दिया जा रहा है । बाहर रहने वाले लोगो को भी प्रॉक्सी प्रक्रिया के नाम पर राशन देकर उसे हजम करने का काम किया जा रहा है। इस कार्य मे विभागीय अधिकारियों एवं नेताओ का भरपूर संरक्षण भ्रष्ट राशन डीलरों को मिल रहा है । जिसके चलते पात्र लोगो को राशन नही मिल पा रहा है। लॉक डाउन के दौरान उनके संगठन द्वारा सेवा कार्य किए गए। जिसमे उन्हें राशन डीलरों की शिकायतें मिली। इन शिकायतों से उन्होंने अधिकारियों को भी अवगत कराया था। किन्तु कोई कार्यवाही नही की गई। राघव ने कहा है कि अधिकारियों द्वारा शीघ्र भ्रष्ट राशन डीलरों की जांच कराकर कार्यवाही नही की गई तो वह पीड़ितों के साथ मिलकर तहसील प्रांगण में धरने को बाध्य होंगे। जिसकी समस्त जिम्मेदारी प्रशासन की होगी ।

इनपुट : अनूप शर्मा