Visitors have accessed this post 184 times.

नालन्दा : क़ोरोना महामारी में अपनी जान जोखिम में डालकर अपने मानवीय कर्तव्यों का लगातार निर्वहन कर रहे समाजसेवी सह गुटखा छोड़ो आंदोलन के राष्ट्रीय अध्यक्ष आशुतोष कुमार मानव समेत कई लोगों को विश्व तम्बाकू निषेध दिवस के अवसर पर सम्मानित किया गया. जाने माने दंत चिकित्सक एवं जागरुकता अभियान के निदेशक डाक्टर धर्मेन्द्र कुमार ने श्री मानव के गृह नगर हिलसा पहुँचकर उन्हें अंगवस्त्र, प्रशंसा पत्र एवं फोरहेड थर्मामीटर भेंट किया तथा उनकी हौसला आफ़जाई की. इस दौरान डाक्टर धर्मेंद्र ने श्री मानव द्वारा संचालित नशा विरोधी अभियान समेत दर्जनों प्रेरक कार्यों को सराहा तथा कहा कि ख़ासकर क़ोरोना महामारी के इस भीषण दौर में ऐसे क़ोरोना वारियर्स अपनी जान की परवाह किए बग़ैर आमजन को महामारी से बचने के लिए लगातार सबको प्रेरित कर रहे हैं जो सभी के लिए अनुकरणीय है. इस अवसर पर आशुतोष कुमार मानव ने कहा कि प्रसिद्ध दंत चिकित्सक डाक्टर धर्मेंद्र कुमार एक ऐसे क़ोरोना – योद्धा हैं जो निरंतर मानव सेवा के कार्यों में जुटकर इंसानियत का फ़र्ज़ निभा रहे हैं. ऐसे क़ोरोना वारियर्स के इस हौसले का हम सभी को हृदय से स्वागत करना चाहिए. डा. अमित कुमार पासवान ने कहा कि जागरुकता अभियान चलाकर लोगों को क़ोरोना से बचने के लिए प्रेरित करना सभी समाजसेवियों एवं संगठनों का फ़र्ज़ बनता है. इसी क्रम में चर्चित युवा कवि कुमार राकेश रितुराज ने अपनी कविता सुनाकर आम जन से अपने अपने घरों के अंदर रहकर क़ोरोना महामारी के ख़िलाफ़ जंग लड़ने तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने की अपील की. इसके अलावा गुटखा खैनी, तम्बाकू के ख़िलाफ़ अभियान तेज़ करने का भी संकल्प लिया गया. इस दौरान दर्जनों लोगों के बीच मास्क, सेनेटाइज़र आदि सामग्री का भी वितरण किया गया. मौक़े पर समाजसेवी रमेश कुमार पान, डा. अमित पासवान, सौरव कुमार, कविता प्रवीण, धर्मेंद्र कुमार, डा. योगेन्द्र प्रसाद, गोपाल भदानी, संतोष कुमार पार्थ, डा. रविंद्र कुमार सिन्हा, मनीष कुमार, राज किशोर प्रसाद,