Visitors have accessed this post 294 times.

जो लोग बच्चों को अच्छी शिक्षा प्राप्त कराते हैं। और जो माता पिता बच्चो को पैदा करते हैं। वे माता पिता के मुकाबले शिक्षक जो बच्चो को शिक्षा देते हैं। वह सम्मान के ज्यादा हकदार हैं क्योंकि माता-पिता सिर्फ बच्चों को जन्म देते हैं जबकि शिक्षक उनको अच्छे से जीने का तरीका,लिखना बोलना और सम्मान से बात करना सिखाते हैं।’ शिक्षकों के योगदान को देखते हुए उनके सम्मान में हर साल पांच सितंबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। शिक्षक दिवस की शुरुआत साल 1962 में हुई थी। आइए जानते हैं पांच सितंबर को शिक्षक दिवस क्यों मनाया जाता है और साथ ही यह भी क्या दूसरे देशो मै भी शिक्षक दिवस मनाया जाता है। शिक्षक दिवस डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के जन्म दिवस (पांच सितंबर) के अवसर पर मनाया जाता है। डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन वह एक महान शिक्षक थे। इसके साथ-साथ वह स्वतंत्र भारत के पहले उप-राष्ट्रपति और दूसरे राष्ट्रपति भी थे। पांच सितंबर, 1888 को तमिलनाडु के तिरुमनी गांव में एक ब्राह्मण परिवार में जन्मे राधाकृष्णन को 1954 में भारत रत्न से नवाजा गया था। पांच सितंबर को शिक्षक दिवस मनाने के पीछे एक कहानी है। कहा जाता है कि एक बार सर्वपल्ली राधाकृष्णन से उनके छात्रों ने उनके जन्मदिन पर आयोजन करने के लिए पूछा। तब डॉ सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने उनसे कहा कि आप मेरा जन्मदिन मनाना चाहते हैं यह अच्छी बात है, लेकिन अगर आप इस खास दिन को शिक्षकों द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में किए गए योगदान और समर्पण को सम्मानित करते हुए मनाएं तो मुझे सबसे ज्यादा खुशी होगी। उनकी इसी इच्छा का सम्मान करते हुए हर साल पांच सितंबर को देशभर में शिक्षक दिवस मनाया जाता है।शिक्षक दिवस दुनिया के कई देशों में मनाया जाता है, जिसमें चीन से लेकर, अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया, अल्बानिया, इंडोनेशिया, ईरान, मलयेशिया, ब्राजील और पाकिस्तान तक शामिल हैं। हालांकि हर देश में इस दिवस को मनाने की तारीख अलग-अलग है। जैसे कि- चीन में 10 सितंबर तो अमेरिका में छह मई, ऑस्ट्रेलिया में अक्टूबर के अंतिम शुक्रवार, ब्राजील में 15 अक्टूबर और पाकिस्तान में पांच अक्टूबर को शिक्षक दिवस मनाया जाता है। इसके अलावा ओमान, सीरिया, मिस्र, लीबिया, संयुक्त अरब अमीरात, यमन, सऊदी अरब, अल्जीरिया, मोरक्को और कई इस्लामी देशों में 28 फरवरी को शिक्षक दिवस के रूप में मनाय जाता है। इस दिवस के अवसर पर देशभर मे शिक्षा के क्षेत्र में अहम योगदान दिया है । और शिक्षकों को भारत सरकार द्वारा पुरस्कार के साथ सम्मानित भी किया जाता है।

INPUT: KOMAL AGRAWAL

यह भी पढ़े : CBSE classes का नया बैच तुरंत रेजिस्ट्रेन कराएं

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp