Visitors have accessed this post 36 times.

सासनी : अलीगढ से निकलकर सासनी होकर निकल रहे नाला गांव सिंघर्र में उफान आ गया। जिससे ग्रामीणों में खलबली मच गई। ग्रामीणों के आलू की काफी फसल नाले की भेंट चढ गई। ग्रामीणों ने आनन-फानन में जेसीबी मंगाकर नाले की सफाई कराई।
बुधवार का मिली जानकारी के अनुसार गांव सिंघर्र में होकर अलीगढ से निकलने वाला नाला गांव सिंघर्र और सांदलपुर आदि गांव होते हुए निकल रहा है, ग्रामीणों ने बताया कि गांव के निकट सांसद और विधायक सहित तमाम जनप्रतिनिधियों से इसकी शिकायत कर दी है, मगर सभी गांधी के तीन बंदरों की भांति बैठे है। ग्रामीणों ने बताया कि नाले से करीब पचास बीघा से अधिक कृषि भूमि प्रत्येक फसल में जलमग्न होकर नष्ट हो जाती है। इसके लिए ग्रामीणों को अपने पैसे से नाले की सफाई करानी पडती है, तब जाकर फसल के लिए ख्ेाती को सुचारू बनाया जाता है, ग्रामीणों ने बताया कि कई बार वह तहसील दिवस में इस समस्या के समाधान के लिए अफसरों को बता चुके हैं मगर अफसर भी कुंभकरण की नींद सोए रहते है। ग्रामों ने बताया कि बुधवार को नाले का पानी इस प्रकार खेतों में आया कि उनकी कृषि भूमि में बोई गई आलू की फसल नष्ट हो गई, ग्रामीणांे ने बताया कि सांदलपुर और सिंर्घर की फसल नष्ट होने पर किसान भुखमरी के कगार पर पहुंच जाते हैं मगर उनकी सुनने वाला कोई नहीं है। बुधवार को भी ग्रामीणों ने जेसीबी मंगाकर नाले की सफाई कराई है।

input : avid hussain

यह भी पढ़े : पुलिस ने मारपीट के मामले में किए में दो बंद

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

https://play.google.com/store/apps/details?id=com.tv30ind1.webviewapp

 

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here