Visitors have accessed this post 56 times.

हाथरस : कोरोना संक्रमण के बढ़ते रफ्तार और मरीजों की संख्या को देखते हुए आज हाथरस जिलाधिकारी रमेश रंजन ने प्रेम रघु हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर/ प्रेम रघु आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज, एमडी टीवी हॉस्पिटल तथा ए0बी0जी0 इंस्टिट्यूट आॅफ पैरामेडीकल एण्ड हॉस्पिटल में बनाए गए कोविड़ वार्डो का निरीक्षण किया।
कोविड प्रभावित रोगियों के लिए एंबुलेंस विशेष रूप से आरक्षित रखने के निर्देश। जिलाधिकारी ने अस्पतालों के निरीक्षण के दौरान कोविड-वार्ड में साफ-सफाई, पेयजल, भोजन की व्यवस्था को दुरूस्त रखने एवं मास्क, सेनेटाइजर, दवाइयां समय से उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।
जिलाधिकारी ने निर्देश दिये कि अस्पताल के स्वास्थ्य कर्मी हमेशा अलर्ट मोड में रहें, जिससे मरीज आने पर तुरंत चिकित्सीय सुविधा तत्काल उपलब्ध कराई जा सके।
जिलाधिकारी रमेश रंजन ने प्रेम रघु हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर तथा प्रेम रघु आयुर्वेदिक मेडिकल कॉलेज को एल0-2 फैसिलिटी हेतु की गई व्यवस्थाओं के दृष्टिगत निरीक्षण करते हुए मानक के अनुसार डॉक्टरों की व्यवस्था कराने हेतु अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ0 डी0के0 अग्रवाल को निर्देश दिए ।हॉस्पिटल के संचालक पी0पी0 सिंह ने बताया कि 6 वार्ड संचालित है जिसमें से प्रत्येक वार्ड में 10-10 बेड की व्यवस्था है तथा 3 वार्डों में ऑक्सीजन सप्लाई की व्यवस्था सुचारू रूप से संचालित है। जिलाधिकारी ने शेष तीनों वार्डों में ऑक्सीजन सप्लाई की व्यवस्था कराने के निर्देश दिये। उन्होने प्रेम रघु हॉस्पिटल के संचालक को वेंटिलेटर की व्यवस्था कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने तैनात किए गए डॉक्टरों के रहने हेतु अलग से व्यवस्था करने के निर्देश दिए। उन्होने अपर जिला अधिकारी एवं अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी को समस्त आवश्यक व्यवस्थाओं की सूचना तैयार कर उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। एमडी टीवी हॉस्पिटल में संचालित एल0-2 फैसिलिटी कोविड हॉस्पिटल का निरीक्षण कर जिलाधिकारी ने भर्ती मरीजों के स्वास्थ्य से सम्बन्धित जानकारी ली। डॉ वीरेंद्र सिंह ने बताया कि स्टाफ ड्यूटी तीन शिफ्ट में लगाई गई है। प्रत्येक शिफ्ट में एक डॉक्टर, एक स्टाफ नर्स, एक फार्मासिस्ट तथा एक स्वीपर तैनात किया गया है। उन्होंने बताया कि मरीजों को देखने हेतु सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था की गई है। सीसीटीवी कैमरे संचालित ना होने पर जिलाधिकारी ने नाराजगी व्यक्त की तथा टेक्नीशियन को बुलाकर तत्काल संचालित कराने के निर्देश दिए। जिलाधिकारी ने डॉ वीरेंद्र सिंह को भर्ती मरीजों को मास्क, सैनिटाइजर, दवाइयां एवं खाने पीने के उचित प्रबंध करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। उन्होंने कहा कि यदि किसी भी प्रकार की शिकायत प्राप्त होती है तो संबंधित के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। जिलाधिकारी ने भर्ती मरीजों से फोन के माध्यम से वार्ता की एवं उनका हालचाल जाना। यह भी जानकारी की वह कहां के निवासी है। जिलाधिकारी ने भर्ती मरीजों को पूर्ण सतर्कता बरतने के निर्देश दिए ।ए0बी0जी0 हॉस्पिटल एंड पेरामेडिकल इंस्टीट्यूट सासनी में कोविड एल0-2 फैसलिटी के तहत की व्यवस्थाआंे का जायजा लेते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि शासन अथवा सी0एम0ओ0 कार्यालय से अनुमति मिलने के पश्चात ही मरीजों को भर्ती करना सुनिश्चित करें। जिलाधिकारी ने अस्पताल का नियमित रूप से सेनेटाइजेशन करने के निर्देश दिए। डॉक्टर सुनील अग्रवाल ने बताया कि 100 बेड की व्यवस्था है। जिलाधिकारी ने संचालक को वेंटिलेटर की व्यवस्था कराने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को आवश्यकता पड़ने पर हॉस्पिटल में एंबुलेंस की व्यवस्था उपलब्ध कराने के निर्देश दिए।
इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी आर0बी0 भास्कर, अपर जिलाधिकारी जे0पी0 सिंह, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर बृजेश राठौर, उप जिलाधिकारी सदर अंजलि गंगवार डॉ विजेंद्र सिंह तथा सम्बन्धित हॉस्पिटल स्टाफ उपस्थित रहा।

इनपुट : बृजमोहन ठैनुआ

यह भी पढ़े : अनोखे पंछी के अनोखे अंडे जिन्हें आपने पहले कभी नहीं देखा होगा

अपने क्षेत्र की खबरों के लिए डाउनलोड करें TV30 INDIA एप

http://is.gd/ApbsnE

sasni new wave