Visitors have accessed this post 113 times.

उत्तर प्रदेश पुलिस के सिपाही ने इंसानियत की मिसाल पेश की है। आगरा में एक सिपाही ने जिंदगी और मौत से जूझ रहै डेंगू बुखार से युवक को अपना खून देकर उसे नई जिंदगी का तोहफा दिया है। यूपी पुलिस के सिपाही की दरियादिली से अन्य पुलिस कर्मियों का भी सीना गर्व से चौड़ा हुआ है इसीके चलते पुलिस के सिपाही की मानवता के लिए उसे सोशल मीडिया पर भी प्रशंशा हो रही हैं एस एस पी ऑफिस आगरा में तैनात यूपी पुलिस के कान्स्टेबल धीरज सिंह चाहर 2011 में पुलिस में भर्ती हुए थे। जैसा नाम वैसा ही इस सिपाही का काम भी है। यपूी पुलिस के ये सिपाही धीरज चाहर ने जिन्दगी और मौत से जूझ रहे मनोज को उस वक्त अपना खून दिया जब खून देने के लिए मनोज को कोई नहीं मिल रहा था जानकरी के मुताबिक मनोज कुमार निवाशी भोगांव मैनपुरी के रहने वाला था उसे कुछ दिनों डेंगू भूखार आ गया जिशे उसके परिजनों ने उसे एक प्राइवेट हॉस्पिटल आगरा में भर्ती कराया मरीज मनोज की सिर्फ बारह हजार ही प्लेट बची थी और उस मनोज को ब्लड की आवस्यकता थी जब इस बात की भनक धीरज चाहर को हुई तो वह ब्लड देने के लिए हॉस्पिटल पहुँच गए धीरज चाहर हाथरस जनपद के मुरसान क्षेत्र के गांव ताजपुर के है धीरज ने अपने कुछ अन्य साथियों के साथ मिलकर एक ग्रुप बना रखा है जिशमे मनोज जैशे कई लोगो को ब्लड दिया है वही धीरज ने बताया कि हम लोगो को एक दूसरे की ही हमेशा मदद करनी चाहाएये|

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here