Visitors have accessed this post 51 times.

खराब जीवनशैली, स्ट्रेस और खराब खानपान के कारण भारत में अधिकतर लोग डायबिटीज से पीड़ित है। करीब 7.5 करोड़ लोग भारत में डायबिटिक है। वहीं अन्य 70 मिलियन लोग प्री-डायबिटिक है यानी वे जल्द इससे ग्रस्त होने वाले है। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक हेल्थ के डायरेक्टर जीवीएस मूर्ति ने इस बात की जानकारी दी है। उनका कहना है कि भारत में आधे लोगों को पता ही नहीं होता की उन्हें डायबिटीज है। उन्हें जब पता चलता है जब यह बीमारी बढ़ जाती है।

पब्लिक हेल्थ फाउंडेशन ऑफ इंडिया ने डायबिटीज को लेकर पिछले सप्ताह ही एक हेल्पलाइन लांच की है। उनका कहना है कि दुनियाभर में 50 प्रतिशत से ज्यादा लोग इस बीमारी से पीड़ित है और जरूरत है कि इसके बारे में लोगों को पता हो और इसका पता जल्द लग सके।

डायबिटीज से बचने के लिए ज्यादा मात्रा में कार्बोहायड्रेट फूड लेना कम करना चाहिए। रोज व्यायाम, मेडीटेशन, लगातार निरीक्षण करना बहुत जरूरी है। आयुर्वेद में खाने की जितनी कड़वी चीजें हैं, वे डायबिटीज के मरीजों में शुगर और फैट को नियंत्रण में रखने में सहायक होते हैं। जैसे जौ, बाजरा, हल्दी, मेथी वगैरह। डायबिटीज के मरीजों को इलायची और अदरक भी खाने की सलाह दी जाती है।

Input riya

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here