Visitors have accessed this post 55 times.

दिनप्रतिदिन बदलते लाइफस्टाइल और एडवांस होते समय में आजकल रिश्तों में दरार आना और रिश्तों का टूटना बहुत ही आम बात हो गई है। वर्किंग होने के चलते और अपनी अपनी जिंदगी में व्यस्त होने के चलते दूरी बढ़ने का एक बड़ा कारण साबित हो रही है। हालांकि रिलेशनशिप में अक्सर संबंध बनते और बिगड़ते रहते हैं। रूठना-मनाना, रोना-रुलाना और हंसना-हंसाना चलता ही रहता है। लेकिन अगर इस बीच आपका पार्टनर आपको इग्नोर कर रहा है तो आपको इस चीज को इग्नोर नहीं करना चाहिए।

 

  • अगर आप इग्नोर का यहां सही मतलब नहीं समझ पा रहे हैं तो हम आपको बताते हैं। इग्नोर से हमारा मतलब है कि अगर आपका पार्टनर आपके फोन का जवाब नहीं दे रहा है, आपके फोन या फिर मैसेज को इग्नोर कर रहा है, आपसे दूर रहने के बहाने ढूंढ रहा है और आपके पूछने पर भी तुम ऐसा क्यों कर रहे हो? तो जवाब में यह कहना मैं कुछ नहीं कर रहा हूं/रही हूं, तो समझ लें कि आपका रिश्ता टूटने की कगार पर आ गया है।
  • ऐसे में आपके पास दो ही रास्ते होते हैं। या तो आप उससे खुद ही अपने सारे संबंध तोड़ लें, या फिर समस्या की जड़ तक पहुंचकर उसे सुलझाने की कोशिश करें। आज हम आपको रिश्तों के टूटने और दरार पड़ने के मुख्य कारण बता रहे हैं। यानि कि अगर आपके रिलेशनशिप में लंबे समय से खटपट चल रही है। बावजूद इसके आप अपने रिश्ते तो फिर से पटरी पर लाना चाहते हैं तो आपको कुछ खास तरीके अपनाने की जरूरत है।
  • आइए जानते हैं क्या हैं वो टिप्स—
  • अक्सर बातचीत करने में कम्यूनिकेशन गैप आ रहा है तो आप बातचीत का सिलसिला जारी रखें। कॉल, चैट, मेल और हर प्रकार से दूर रहकर भी एक दूसरे जुड़ेे रहें। अपनी बातों से अपने प्यार को जाहिर करते रहें।
  • सबसे पहले ये जानने की कोशिश करें कि आखिर आपका पार्टनर किस बात के चलते आपको इग्नोर कर रहा है। रिश्तों में एक दूसरे पर भरोसा जताते रहना बहुत जरूरी होता है।
  • आपके प्रयासों का आखिरी विकल्प यह हो सकता है कि अगर आपका पार्टनर आपके साथ रिलेशनशिप में नहीं रहना चाहता तो आप उसे जाने दें। किसी भी रिश्ते को खत्म करने के लिए यह जरूरी नहीं है कि उसे बदतर बनाकर तोड़ें।
  • कभी-कभी ऐसा होता है कि आपका पार्टनर किसी बात को लेकर परेशान रहता है इसलिए अकेला रहना शुरू कर देता है। ऐसी स्थिति में उसे अकेला छोड़ने के बजाय उसके साथ बात करने की कोशिश करें। ऐसे में उसका आप पर विश्वास भी बढ़ेगा और हो सकता है कि आपका पार्टनर आपके पास वापस आ जाएगा।

Input soniya

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here